Farmers Tractor Rally Violence: डकैती और जानलेवा हमले की धाराओं में होगा केस दर्ज, दिल्ली क्राइम ब्रांच करेगी जांच….

0

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली निकाली। कुछ शर्तों के साथ दिल्ली पुलिस ने किसानों को ट्रैक्टर परेड की अनुमती दी। लेकिन किसानों की इस रैली में भीड़ का फायदा उठाते हुए उपद्रवी घुए आए। इन उपद्रवियों ने पुलिस के तय रूट को नहीं माना और ट्रैक्टर रैली को दिल्ली की तरफ मोड दिया। कृषि कानूनों के विरोध में 26 जनवरी को हुई ट्रैक्टर रैली हिंसा को लेकर पुलिस लगातार एक्शन में है। हिंसा और तोड़फोड़ की घटनाओं पर अब तक 22 FIR दर्ज हो चुकी है।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि डकेती और जानलेवा हमले की धाराओं के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। अब क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच करेगी। उपद्रवियों की पहचान के लिए पुलिस ने सीसीटीवी फुटे खंगालने शुरू कर दिए हैं। पुलिस का दावा है कि मंगलवार की हिंसा में 300 सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं। एक एडिशनल डीसीपी पर तलवाल से हमला किया गया है। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि कुछ लोगों को यह जगह तुरंत छोड़नी चाहिए। जिन लोगों ने बैरिकेडिंग तोड़े है वे लोग किसान आंदोलन का हिस्सा नहीं है।

टिकैत ने कहा कि लाल किले में जिसने भी हिंसा फैलाई है उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। वे लोग आंदोलन का हिस्सा नहीं रह सकते हैं। बता दें कि केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने और फसलों के एमएसपी पर कानूनी गारंटी देने की मांग को लेकर हजारों की दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे हैं। इनमें ज्यादातर किसान पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शामिल है।

Read More…
Farmers Tractor Rally Violence: कौन है वो शख्स जिसने लाल किले पर फहराया खालसा पंथ का झंडा….
Farmers Tractor Rally Violence: डकैती और जानलेवा हमले की धाराओं में होगा केस दर्ज, दिल्ली क्राइम ब्रांच करेगी जांच….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here