Hyderabad Civic Polls: हैदराबाद चुनाव BJP के लिए क्यों बना साख का सवाल, त्रिकोणीय बना मुकाबला…

0

हैदराबाद निकाय चुनाव को लेकर आज वोटिंग हो रही है। GHMC चुनाव में बीजेपी ने ताकत लगाकर सियासी तस्वीर बदलने की कोशिश की है। हैदराबाद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM का गढ़ माना जाता है। ऐसे में बीजेपी अब ओवैसी का किला ढहाने में लगी है। तेलंगाना में बीजेपी के पास 119 में से केवल दो विधायक है। वहीं कुल 17 लोकसभा सीटों में से केवल 4 सांसद है। इसके बावजदू बीजेपी ने हैदराबाद के नगर निगम चनाव में अपनी पूरी ताकत लगाई है।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा कहते हैं कि हर चुनाव को महत्व देना चाहिए। विकास के मुद्दे चुनाव लड़ा जा रहा है। हैदराबाद के इस लोकल चुनाव की देशभर में चर्चा हो रही है। GHMC के तहत करीब 82 लाख की आबादी आती है। GHMC चुनाव में 150 पार्षद चुने जाते हैं। इस बार के चुनाव में 1122 प्रत्याशी उम्मीदवार मैदान में है। इसे लेकर एक दिसंबर को मतदान होगा। 4 दिसंबर को नतीजों का ऐलान किया जाना है।

GHMC के एक लोकल बॉडी है। इसके चुनाव भी लोकल स्तर पर लड़े जाते हैं। लेकिन इस बार बीजेपी ने इन चुनावों का स्तर बढ़ा दिया है। पिछली बार हैदराबाद निकाय चुनाव में तेलंगाना के सीएम चंद्रशेखर राव की पार्टी टीआरएस ने बाजी मारी थी। टीआरएस ने 99 सीटों पर जीत का परचम लहराया था। अदुद्दीन ओवैसी की पार्टी के खाते में 44 सीटें आई थी। इस बार के चुनाव को बीजेपी ने त्रिकोणीय बना दिया है। बता दें कि बीजेपी तेलंगना चुनावों में ओवैसी के वोटों में सैंध लगाने के कोशिश में है।

Read More…
Farmers Protest: दिल्ली बॉर्डर पर किसानों ने तोड़ी बैरिकेडिंग, सरकार के न्यौते पर बैठक जारी…
GHMC Election 2020: हैदराबाद निकाय चुनाव के लिए वोटिंग आज, बीजेपी-ओवैसी और TRS में कांटे की टक्कर…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here