हांगकांग में प्रदर्शनों को हवा देने वाले प्रोफेसर को हटाया, चार लोग गिरफ्तार

0

चीनी स्वायत्त क्षेत्र हांगकांग में चीन के नए राष्ट्रीय सुरक्षा कानून पारित होने के बाद पहली बार किसी को नौकरी से निकाला गया है। यूनिवर्सिटी ऑफ हांगकांग के एक एसोसियट प्रोफेसर की भूमिका चीन विरोधी प्रदर्शनों में सामने आई है। इसके बाद एसोसिएट प्रोफेसर को दोषी करार देते हुए नौकरी से बाहर का कर दिया है। बताया जा रहा है कि इस कार्रवाई से उनके समर्थक छात्र सड़कों पर उतर सकते हैं। वहीं हांगकांग में प्रशासन के खिलाफ विद्रोह के मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इन लोगों पर सोशल मीडिया पर विवादित पोस्ट करने का आरोप है।

हांगकांग यूनिवर्सिटी की परिषद ने लॉ के प्रोफेसर बेनी ताई को पद से हटाने के लिए वोटिंग तक की है। इस मतदान में 18-2 के अंतर से जीत के बाद उन्हें पद से हटाने का फरमान सुना दिया है। साल 2014 में चीन विरोधी अभियान में एक सार्वजिनक आंदोलन में उन 9 नेताओं में से एक थे जिन्होंने आंदोंल को हवा देने का काम किया था और विरोध की आग भड़क गई थी। हालांकि, इस आंदोलन को विफलता के तौर पर देखा गया है। उन्हें पिछले साल सार्वजनिक उपद्रव के आरोपों को लेकर भी दोषी माना है।

बता दें कि प्रोफेसर बेनी ताई को नोकरी से निकाले जाने के बाद से आशंका जताई जा रही है कि उनके समर्थक छात्र सड़कों पर उतर सकते हैं। आंदोलन करने को लेकर हांगकांग में युवाओं पर सख्त निगाह रखी जा रही है। बता दें कि चीन ने हांगकांग पर जबरन राष्ट्रीय कानून को थोपने को लेकर विधेयक को पास कर दिया है। हांगकांग में लागू हुए इस नए कानून के तहत चीन के खिलाफ कोई आवाज नहीं उठा सकता है।

Read More…
इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख बढ़ाई, 30 सितंबर तक मिली राहत
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या दौरे पर आतंकी साया, SPG संभालेगी मोर्चा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here