1000 करोड़ का घोटाला: ईडी ने IT विभाग से मांगे दस्तावेज, फर्जीवाड़े में बैंक अधिकारियों पर भी संदेह

0

चीनी कंपनियों की मिलीभगत से फर्जी कंपनियां खोलकर 1000 करोड़ रुपये हवाला करने के मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने आयकर विभाग से दस्तावेज मांगे हैं। इस मामले में चीन के नागरिकों के भी शामिल होने की बात सामने आई है। बताया जा रहा है कि बैंक के बड़े अधिकारी और कर्मचारी भी इस घोटाले में शामिल हैं। मंगलवार को आयकर विभाग ने इस मामले को लेकर छापेमारी की थी।

एक हजार करोड़ रुपये के घोटाले रैकेट के मुख्य आरोपी चार्ली से आयकर विभाग लगातार पूछताछ करने में लगी है। आयकर विभाग की टीमें उसके सहयोगियों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। आयकर टीम को जांच के दौरान पता चला है कि चार्ली और उसके साथियों ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर कंपनिया खोली। इसके बाद इन कंपनियों के जरिए 1000 करोड रुपये का हवाला कारोबार को अंदाम दे डाला। इस कारोबार में कुछ भारतीय कंपनियों सहित बड़े बैंक के अधिकारी और कर्मचारी तक शामिल होने की आशंका है।

इनकम टैक्स ने दिल्ली, गाजियाबाद और गुरूग्राम में रिटेल शॉप, बैंक अधिकारी, चार्टेड अकांउटेंट और व्यापारियों के 24 ठिकानों पर ये छापेमारी की है। इस छापेमारी से जानकारी निकलकर सामने आई है कि चीन के लोग भारत में बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग का करोबार कर रहे थे। चीनी नागरिकों के कहने पर फर्जी कंपनियां बनाई गई और 40 बैंक खाते खोल लिए गए। इन खातों के जरिए एक  हजार करोड़ रुपये के हवाला का करोबार किया गया।

Read More…
बेंगलुरु: फेसबुक पोस्ट से उबल पड़ा पूरा शहर, 60 पुलिसकर्मी घायल, दो की मौत
कृष्ण जन्माष्टमी: रोजाना एक लाख श्रद्धालुओं से भरे रहने वाले द्वारका नगरी में पसरा सन्नाटा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here