RBI:कोरोना में मदद के लिए 50000 करोड़ देगा RBI

0

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कोरोनोवायरस की वैश्विक महामारी के बीच आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस दौरान कहा कि RBI कोरोना की मौजूदा स्थिति पर नजर रख रहा है। कोरोना कालमे नागरिको के लिए इसके नियंत्रण के सभी संसाधनों और उपकरणों को तैनात करेगा ताकि कोरोना से पार पाई जा सके। उन्होंने साथ ही में कहा कि आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाओं के लिए RBI द्वारा 50,000 करोड़ रुपये दिए जा रहे हैं।Shaktikanta Das named new RBI Governor

शक्तिकांत दास ने आगे कहा कि कोरोना की पहली लहर के बाद, अर्थव्यवस्था में सुधार शुरू हुआ, लेकिन दूसरी लहर ने एक बार फिर से इस पर संकट पैदा कर दिया है। हमें वायरस से निपटने के लिए अपने संसाधनों का उचित प्रबंधन करना होगा। भारतीय अर्थव्यवस्था पर बात करते हुए शक्तिकांत दास ने कहा, वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत हैं। भारतीय अर्थव्यवस्था भी अब इस संकट से उबरने लगी है। देश कोरोना संकट से बाहर निकलने को लेकर अपनी क्षमता के बारे में आश्वस्त है। उन्होंने साथ ही ये उम्मीद जताई की अच्छे मानसून से ग्रामीण मांग बढ़ेगी।GST to come into effect from July 1, says Shaktikanta Das ...

आरबीआई गवर्नर ने कहा कि मैन्यफैक्चरिंग यूनिट्स धीमी पड़ रही हैं। हालाँकि ट्रैक्टर के सेक्टर में तेजी देखने को मिली है,साथ ही में ऑटो पंजीकरण में अप्रैल माह में गिरावट दर्ज की है। व्यवसायों ने कोरोना प्रतिबंधों के बावजूद भी जीवित रहना सीखा है। मालूम हो कि देश में कोरोना संक्रमण के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। इसके चलते देश के कई राज्यों में लॉक डाउन या तो लगा दिया गया है या लॉक डाउन जैसी स्थिति पैदा हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here