पत्रकार के इस सवाल पर क्यों बौखला गए BCCI के पूर्व अध्यक्ष श्रीनिवासन, गुस्से से होकर लाल आंखों में उतर आया खून बोल दिया अनाप-शनाप!

0
N-Srinivasan

बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष  एन श्रीनिवासन उस वक्त फटकार लगा दी, जब एक पत्रकार ने उनसे ऐसा कुछ अजीब पूछ लिया। दरअसल एन श्रीनिवासन  बीसीसीआई के आम बैठका या एसजीएम में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे, तभी एक पत्रकार ने उनसे ऐसा कुछ पूछा लिया, वेे भड़क गए और पत्रकार की बात बेतुकी लगी और उस जवाब पलट दे दिया।

ये भी पढ़े:-वेस्टइंडीज में अपने पुराने दोस्त के घर जाकर कप्तान विराट संग टीम इंडिया ने किया डिनर 

दरअसल एन श्रीनिवासन से पत्रकार ने पूछा की आप किस हैसियत से क्रिकेट बोर्ड की एसजीएम बैठक में हिस्सा ले रहे हैं। और इसी बात से वे भड़क उठे, बता देें की इस  बैठक में श्रीनिवासन तमिल नाडु क्रिकेट संघ प्रतिनिधि के रुप बैठक में हिस्सा लिया था, पर लोढ़ा समिति के सिफारिशों के अनुसार टीएनसीए या बीसीसीआई के पदाधिकारी बनने के योग्या  हैं।

ये भी पढ़े : विराट ने इस मामले में बॉलीवुड के सल्लू मियां को भी पछाड़ा

इस संदर्भ को रखते हुए जब पत्रकार ने उनसे पूछा की किस हिसाब से यहां आए हैं तो उन्होंने पत्रकार से उलटा सवाल दाग दिया, कहा तुम कहां से आए हो, किस चैनल से आए । ऐसे सवालों करते हुए श्रीनिवासन गुस्से में नजर आ रहे थे। साथ ही उन्होंने कहा कि बधाई देता हूं कि तुमने मुझे चुप करा दिया, इस आईसीसी प्रमुख ने पत्रकार से  कहा कि पहले  मुझे सवाल पूछने के  हैसियत  बनाओ।

ये भी पढ़े: इस मशहूर क्रिकेटर ने टीम इंडिया का कोच बनने से किया इनकार, वजह जानकर हैरत में पड़ जाएंगे आप

साथ ही इस दौरान श्री निवासन ने कई सवालों के जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा है कि बीसीसीआई की बैठक के बाद वे खुश है  और सबकी सहमित से टीएनसीए कार्यकारी समिति ने श्रीनिवासन को बैठक के लिए अपना प्रतिनिधि नियुक्त किया था।

ये भी पढ़े : मैदान पर पहली बार उड़ा युवराज सिंह का मजाक, कर बैठे ऐसी हरकत कि क्रिकेटर्स से लेकर फैंस तक हंस पड़े खी-खी करके, आ रहे हैं जोरदार कमेंट!

बता दें की श्री निवासन को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा हुआ है सुप्रीम कोर्ट श्री निवासन के संदर्भ में कहा था। वे अगले सप्ताह होने वाली आईसीसी की बैठक में बोर्ड का प्रतनिधित्व  नहीं कर सकते हैं। साथ ही इस बैठक में लोढ़़ा समिति की सिफारिशों को लागू करने के लिए समिति गठति करने का फैसला लिया गय़ा था , और श्रीनिवासन के विरोध के बावजूद यह फैसला लिया गया, क्योंकि और लोढ़ा समिति के ये सिफारिशों उनकी यथास्थिति बरकरार रहने को विफल किए जाने का काम करेगी ।

 

खेल जगत की लेटेस्ट जानकारी पाएं हमारे FB पेज पे. अभी LIKE करें – समाचार नामा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here