नए कृषि कानूनों से शहरों की तरफ पलायन रुकेगा : Kailash Chaudhary

0

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने रविवार को कहा कि नए कृषि कानूनों से शहरों की तरफ पलायन रुकेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार खेती-किसानी को फायदे का सौदा बनाने की दिशा में काम कर रही है और इसमें नए कृषि कानूनों से बहुत मदद मिलेगी। राजस्थान में हो रहे उपचुनाव प्रचार को लेकर सहाड़ा विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर पहुंचे कैलाश चौधरी ने यहां कहा कि जब खेती से किसानों को फायदा होगा तो फिर लोग गांवों से शहरों की तरफ क्यों जाना चाहेंगे।

उन्होंने कहा कि खेती-किसानी के काम से लोगों को फायदा होने पर शहरों की तरफ लोगों का पलायन रुकेगा। कृषि राज्यमंत्री ने कहा कि साल 2022 तक किसानों की आमदनी को दोगुना करना केंद्र सरकार का पहला लक्ष्य है और सरकार इसी लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों को लागत से डेढ़ गुना ज्यादा एमएसपी दिया गया है। उन्होंने कहा, ”वित्तवर्ष 2021 में एमएसपी के लिए 75,100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। इस तरह मोदी सरकार किसानों की भलाई के लिए प्रतिबद्ध है और 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में तेज गति से काम कर रही है।”

चौधरी ने कहा कि मुश्किल के इस वक्त में भी मोदी सरकार का फोकस किसानों की आय दोगुनी करने, विकास की रफ्तार को तेज करने और आमलोगों को सहायता पहुंचाने पर है। चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने प्रदेश की कांग्रेस सरकार की तीखी आलोचना की।

न्यूज सत्रेतआईएएनएस

SHARE
Previous articleSearching For Sheela Trailer: करण जौहर ने जारी किया डॉक्यूमेंट्री सर्चिंग फॉर शीला का ट्रेलर, सोशल मीडिया पर छाया
Next articleMaharashtra: वाझे के सहायक काजी को भी किया मुंबई पुलिस ने ससपेंड
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here