क्या आप भी चाहते हैं सौभाग्य की प्रापित, तो गंगा दशहरा पर करें इन चीजों का दान

0

हिंदू धर्म में पर्व त्योहारों को विशेष महत्व दिया जाता हैं वही गंगा दशहरा को खास माना गया हैं इस दिन दान किया जाता हैं इसलिए इस पर्व को दान का महापर्व भी कहा जाता हैं गंगा दशहरा के दिन गर्मी से जुड़ी चीजों का दान किया जाता हैं जैसे शर्बत, पानी और मौसमी फल आदि का दान करना लाभकारी माना जाता हैं इस साल यह त्योहार 20 जून 2021 को मनाया जाएगा। गंगा दशहरा के दिन लोग पूजा पाठ भी करते हैं इस दिन गंगा में स्नान किया जाता हैं और स्नान करने के बाद देवी मां गंगा की आरती और विशेष रूप से पूजा की जाती हैं ऐसा भी कहा जाता है कि इस दिन रामेश्वरम में भगवान श्रीराम ने शिवलिंग की स्थापना की थी, तो आज हम आपको गंगा दशहरा पर्व से जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

ऐसा कहा जाता है कि गंगा दशहरा के दिन गंगा स्नान करने से कई यज्ञ करने के बराबर पुण्य फल की प्राप्ति होती हैं मगर कोरोना महामारी के इस दौर को देखते हुए घर में ही नहाने के पानी में गंगाजल मिलाकर स्नान करना चाहिए इस दिन दान का भी विशेष महत्व होता हैं इस दिन शर्बत, पानी, पानी से भरा मटका, पंखा, खरबूजा, आम, चीनी आदि चीजें दान की जाती हैं ऐसा कहा जाता है कि व्यक्ति इस दिन जिस भी चीज का दान करते हैं वो संख्या में दस होनी चाहिए। ऐसा कहा जाता हैं कि गंगा दशहरा के दिन इन चीजों का दान करने से जातक के जीवन में आ रही सभी परेशानियां और दिक्कतें दूर हो जाती हैं, और जीवन में सुख शांति बनी रहती हैं।

गंगा दशहरा पूजा का शुभ मुहूर्त—
दशमी तिथि आरंभ— 19 जून 2021 को शाम 06 बजकर 50 मिनट पर
दशमी तिथि समापन— 20 जून 2021 को शाम 04 बजकर 25 मिनट पर रहेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here