अक्षय तृतीया पर करें दान, महालक्ष्मी का मिलेगा आशीर्वाद

0

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया को बहुत ही शुभ और पवित्र दिन माना जाता हैं इस दिन सोना खरीदना शुभ होता हैं इस दिन दान पुण्य करने के विशेष महत्व होता हैं। ऐसा कहा जाता है कि इस दिन दान करने से अक्षय फल की प्राप्ति होती हैं। किसी भी मनुष्य जिसे मदद की जरूरत है उसे देवता व पितरों के नाम से जल, कुंभ, शक्कर, सत्तू, पंखा, छाता, फलादि का दान करना बहुत ही शुभ फलदायी होता हैं जल से भरा हुआ घड़ा, शक्कर, गुड़, बर्फी, सफेद वस्त्र, नमक, शरबत, चावल, चांदी का दान भी किया जाता है, तो आज हम आपको इस पर्व से जुड़ी जानकारी बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

आपको बता दें कि इस दिन इन सभी चीजों का दान करने से अक्षय पुण्य लाभ की प्राप्ति होती है और देवी महालक्ष्मी भी प्रसन्न होकर अपनी कृपा भक्तों पर करती हैं इसी दिन दस महाविद्या में नवमी महाविद्या मातंगी देवी का प्रार्दुभाव हुआ था। इस दिन भगवान श्री विष्णु और माता लक्ष्मी की प्रतिमा पर अक्षत चढ़ाना चाहिए वही पितृदोष निवारण के लिए पितरों को तर्पण देना बहुत ही लाभकारी माना जाता हैं। ऐसा कहा जाता है कि अक्षय तृ​तीया के दिन सोना चांदी खरीदाना बहुत ही शुभ होता हैं इस दिन सोना खरीदने से सालों साल वृद्धि होती हैं और घर परिवार में सुख शांति बनी रहती हैं।

जानिए अक्षय तृतीया की पूज का शुभ मुहूर्त—
आपको बता दें कि अक्षय तृतीया की पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 5 बजकर 35 मिनट से लेकर 12 बजकर 18 मिनट तक रहने वाला हैं।

कोरोना वायरस जैसी महामारी के कारण इस बार घर में पूजा करना ही ठीक रहेगा और माता लक्ष्मी का ध्यान करें। महामारी के इस समय में इस दिन किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दान करें और उसकी मदद करना भी बहुत ही लाभकारी होगा इससे पुण्य फल की प्राप्ति होती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here