AIC and CCMB ने कोविटेड ज्वाइन करने के लिए स्टार्टअप्स को आमंत्रित किया

0

अटल इनक्यूबेशन सेंटर और सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी ने उद्यमियों और नवोन्मेषकों को अपने कोविड 19 प्रौद्योगिकी परिनियोजन त्वरण कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आशाजनक तकनीकों के साथ आमंत्रित किया है। सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड की एक सीएसआर पहल और कोविटेड कार्यक्रम का उद्देश्य फंडिंग के साथ साथ कोविड 19 प्रासंगिक उत्पादों और प्रौद्योगिकियों को बाजार में ले जाने के लिए उच्च प्रभाव सलाह, वित्तीय, नियामक और विपणन सहायता प्रदान करना है।

एआईसी और सीसीएमबी कोविड 19 रोगियों के प्रबंधन के लिए चिकित्सा उपकरणों पर ध्यान देने वाले स्टार्टअप और इनोवेटर्स की तलाश कर रहा है। कोविड के सहायक मार्करों के लिए मात्रात्मक परीक्षण, तेजी से निदान, दवाएं और चिकित्सा विज्ञान, नसबंदी और स्वच्छता, जैविक और पोस्टमार्टम के लिए रसद प्रबंधन है।

स्टार्ट अप और इनोवेटर्स 31 मई तक अपने आवेदन जमा कर सकते हैं।

सभी प्रस्तावों पर एआईसी, सीसीएमबी द्वारा गठित एक प्रबंधन समिति (एमसी) द्वारा विचार किया जाएगा। केवल एमसी द्वारा अनुमोदित प्रस्तावों को ही सुविधा तक पहुंच की अनुमति दी जाएगी और नवीन उत्पादों और प्रक्रियाओं के विकास के लिए सहमत नियमों और शर्तों पर परियोजना कार्य शुरू किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि एआईसी, सीसीएमबी ने स्टार्ट अप और एमएसएमई द्वारा उपन्यास कोविड 19 नवाचारों के विकास और सत्यापन के लिए समर्थन सहित कई गतिविधियां शुरू की हैं। हमारा लक्ष्य अनुसंधान संस्थानों, उद्योगों, नीति निमार्ताओं और इन्क्यूबेटरों की भागीदारी के माध्यम से निदान और चिकित्सा विज्ञान का समर्थन और तेजी से तैनात करना है।

–आईएएनएस

SHARE
Previous articleसीनियर नेशनल टीम में चुने जाने से आत्मविश्वास बढ़ा : goalkeeper dheeraj
Next articleभारतीय तेज गेंदबाज दुनिया में किसी भी जगह प्रदर्शन करने में सक्षम : Wagner
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here