मधुबनी : श्रद्धालुओं ने माता दुर्गा से की कोरोना से निजात की कामना

0
DJH¢. ÚUæ×ÙæÍ Ûææ ÙÅUßÚU

शुक्रवार को माता दुर्गा के कूष्मांडा स्वरुप की पूजा-अर्चना की गई। कोरोना संक्रमण को लेकर अधिकांश घरों में माता दुर्गा की पूजा-अर्चना चल रही है। दुर्गा पूजा स्थलों पर कोरोना गाइडलाइंस के आलोक में माता की आराधना की जा रही है। दुर्गा पूजा स्थलों पर कई तरह की सावधानी बरती जा रही है। जिला मुख्यालय सहित जिले के विभिन्न हिस्सों में दुर्गा पूजा स्थलों पर माता दुर्गा की पूजा-अर्चना चल रही है। शारीरिक दूरी बहाल करने के लिए श्रद्धालुओं के लिए गोलाकार चिन्ह बनाए गए है। जिला मुख्यालय से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर अवस्थित जगतपुर चैती दुर्गा मंदिर पर चैती दुर्गा पूजा का आयोजन चल रहा है। कोरोना गाइडलाइंस को लेकर भव्य चैती दुर्गा मंदिर परिसर में पूजा के मौके पर मेला, सांस्कृतिक कार्यक्रम, खेल-तमाशा का आयोजन नहीं किया गया है। श्री श्री 108 चैती दुर्गा पूजा समिति जगतपुर के अध्यक्ष धनंजय चौधरी, सचिव राजकुमार चौधरी, कोषाध्यक्ष विमल झा, पूजा प्रभारी राम खेलावन पासवान ने बताया कि जगतपुर मिठौली में वर्ष 1986 से चैती दुर्गा पूजा का आयोजन किया जा रहा है। इस वर्ष साउंड सिस्टम भी नहीं लगाया गया है।जगतपुर सहित आस-पास के ग्रामीणों के सहयोग से निर्मित चैती दुर्गा मंदिर की बनावट काफी आकर्षक है। ‘वर्तमान समय में माता दुर्गा की पूजा घरों में किया जाना बेहतर हो रहा है। श्रद्घालुओं की मनोकामना पूरी होती है।

– पं. रामनाथ झा नटवर ‘कोरोना वायरस से निजात के लिए पूजा स्थलों पर भीड़-भाड़ से बचना चाहिए। घरों में माता की आराधना से सुख-शांति बनी रहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here