मधुबनी:श्रीमद्भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ को ले निकली कलश शोभायात्रा

0

मधुबनी। कलश शोभा यात्रा पूजा स्थल से प्रारंभ हुई जहां ऐराजी जगत स्थित तालाब से कलश भर कर पूजा स्थल पर लाया गया।कलश शोभा यात्रा में 101 कन्याओं ने भाग लेकर गांव का भ्रमण करते हुए पूजा स्थल पर पहुंची। कलश शोभा यात्रा के साथ हरदिया टोल गांव में भागवत कथा का शुभारंभ हो गया है। वृंदावन के संत कथा वाचक महंथ गोपाल शरण देवाचार्यजी महाराज के द्वारा प्रवचन शुरू हो गया है। 16 से 24 अप्रैल तक आयोजित श्रीमछ्वागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ को लेकर हरदिया टोल गांव में राधे कृष्ण व राधे-राधे की गूंज है। भागवत कथा को लेकर माहौल चारों ओर अध्यात्मिक व भक्तिमय हो गया है।बेनीपट्टी प्रखंड के बेहटा हरदिया टोल गांव में कोरोना महामारी से रक्षार्थ आयोजित श्रीमछ्वागवत ज्ञान यज्ञ सप्ताह को लेकर शुक्रवार को गाजे-बाजे के साथ कलश शोभा यात्रा निकाली गई। कलश शोभा यात्रा में आयोजनकर्ता राधा शरण झा, गंगाधर झा, सुधीर कुमार झा, मदन मोहन झा, अनिल कुमार झा, उपेन्द्र कुमार झा, धैर्य नारायण झा, मोहन झा, प्रो. मदन कुमार झा, दुर्गानंद झा, श्रीकांत झा, पंकज कुमार झा, दयानंद झा, योगेन्द्र यादव, मनीष झा, शंकर यादव, मुकेश झा, सत्यजीत यादव, गोविन्द शरण, राधा रमन, अमरनाथ झा सहित अन्य लोग मौजूद थे। प्रतिमा प्रतिष्ठा को ले निकली आकर्षक कलश यात्रा मधुबनी। बाबूबरही प्रखंड क्षेत्र के पिपराघाट में नवनिर्मित हनुमान मंदिर में प्रतिमा प्रतिस्थापन को लेकर शुक्रवार को आकर्षक कलश यात्रा निकाली गई। गांव-गांव से आए कलश यात्रियों का जत्था सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते कमला बलान एवं सोनी नदी के त्रिवेणी संगम तट पिपराघाट पहुंचा। वहां वैदिक मंत्रोच्चार के बीच कलशों में जल बोझा गया। वापस कतारबद्ध पूजा स्थल पर कलश स्थापित किया गया। इसके साथ ही विधिविधान पूर्वक प्रतिमा प्रतिस्थापन पूजा-अर्चना शुरू हो गया। यात्रा में भेदभाव, ऊंच-नीच, गरीब अमीर की खाई मिट गई। बताया गया कि आगामी 19 अप्रैल को प्रतिमा का प्राण प्रतिष्ठा होगा। 20 अप्रैल से अंतरराष्ट्रीय कथा वाचिका गौरंगी गौरीजी द्वारा रामकथा का कार्यक्रम होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here