भारतीय शेयर बाजार में विदेशी क्यों और कितना लगा रहे हैं पैसा…सरकार ने दी जानकारी जाने खास रिपोर्ट

0

विदेशी निवेशक दो प्रकार से भारत में निवेश कर सकते हैं. एक तो एफडीआई के जरिए करते हैं. यानी ये निवेशक किसी भारतीय कंपनी में हिस्सेदारी खरीदते है. ये निवेशक किसी परियोजना में हिस्सा खरीदते है. आसान शब्दों में कहें तो ये निवेशक भारत में पैसा लगाकर इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करते है लोगों को नौकरी देते हैं.विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) का भारतीय बाजारों में निवेश का सिलसिला मार्च में लगातार तीसरे महीने जारी रहा. मार्च में एफपीआई ने भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 17,304 करोड़ रुपये का निवेश किया.डिपॉजिटरीज से मिले आंकड़ों के अनुसार, एफपीआई ने 1-31 मार्च के दौरान शेयरों में 10,482 करोड़ रुपये और डेट बाजार में 6,822 करोड़ रुपये का निवेश किया.इस तरह उनका शुद्ध निवेश 17,304 करोड़ रुपये रहा. इससे पहले एफपीआई ने फरवरी में भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 23,663 करोड़ रुपये का निवेश किया था, जबकि जनवरी में उन्होंने घरेलू बाजार में 14,649 करोड़ रुपये डाले थे.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि उम्मीदों और अमेरिकी अर्थव्यवस्था में रिकवरी के चलते भारत जैसे उभरते हुए बाजारों में विदेशी निवेश आ रहा है.अमेरिका द्वारा 1.9 लाख करोड़ डॉलर के महामारी राहत पैकेज की घोषणा के बाद वैश्विक वित्तीय बाजारों में अत्यधिक लिक्विडिटी है. इसका प्रवाह भारत जैसे उभरते बाजारों की ओर हो रहा है.कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों की वजह से भारतीय बाजारों में निवेश प्रभावित हो रहा है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान टीकाकरण अभियान तथा अर्थव्यवस्था में सुधार की वजह से बाजार काफी हद तक स्थिर है.एक्सपर्ट्स का मानना है कि शेयर बाजार में जो भारी उतार-चढ़ाव है.

वो सिर्फ एक-दो दिन के लिए हैं. क्योंकि ग्लोबल संकेत पॉजिटिव हैं.भारत में तेजी से कोरोना वैक्सीनेशन जारी है. ऐसे में निवेशकों के पास गिरावट पर खरीदारी का अच्छा मौका है.दुनिया के बड़े ब्रोकरेज हाउस मॉर्गन स्टेनली का कहना है सोभा डेवल्पर्स के शेयर में पैसा लगाया जा सकता है. शेयर पर 573 रुपये के लक्ष्य तय किए गएहै.रिपोर्ट में बताया गया है कि जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी के नतीजे अनुमान से बेहतर रहे है. हाउसिंग सेक्टर में रिवाइवल के संकेत दिखाई दे रहे हैं.ऐसे में अप्रैल-जून तिमाही में डिमांड सुधरने की उम्मीद है. साथ ही, मौजूदा स्तरों पर शेयर के वैल्युएशन आकर्षक नजर आ रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here