अपने जीवन में बहुत ही स्ट्रगल किया है मनोज बाजपाई ने, जाने जीवन के कुछ खास रोचक तथ्य

0

अपने हर किरदार में अपनी जान फूंक देने वाले मनोज बाजपेई को आज किसी पहचान की जरूरत नहीं है. फिल्म इंडस्ट्री के अंदर इन्होंने जो पहचान बनाई है वह वाकई में काबिले तारीफ है. हालांकि इनकी शुरुआत बहुत ही ज्यादा आसान नहीं थी और इन को काफी ज्यादा स्ट्रगल करना पड़ा था और कई मुश्किलों के बाद में इन्होंने आज यह मुकाम हासिल किया है. एक समय तो ऐसा भी आ गया था जब मनोज बाजपेई खुदकुशी करना चाहते थे क्योंकि पैसों की कमी के चलते वह बहुत ही ज्यादा परेशान हो गए थे. ऐसे समय में उनके दोस्तों ने उनकी जान बचाई थी.latest manoj bajpai shirt Inspiration looks and outfits | Charmboard

अपने पिता को एक्टर बनने के सपने के बारे में जब मनोज वाजपेई ने बताया तो उनको किस प्रकार का रिएक्शन मिला इसके बारे में खुद मनोज बाजपेई ने एक इंटरव्यू में बताया. उन्होंने कहा कि मैं एक किसान का बेटा हूं और अपने पांच भाई बहनों के साथ बिहार के छोटे गांव में पला बढ़ा हूं और साधारण परिवार में रहा हूं. झोपड़ी में बनी स्कूल में पढ़ा हुआ हूं और जब भी शहर जाते थे तो थिएटर में फिल्म जरूर देखते थे और अमिताभ बच्चन का बहुत बड़ा फैन था और 9 साल की उम्र में ही समझ में आ गया था कि मुझे एक्टिंग करना है.THE TEASER OF MANOJ BAJPAYEE'S 'SILENCE... CAN YOU HEAR IT?' IS OUT - The  Daily Guardian

दिल्ली यूनिवर्सिटी ज्वाइन करने के बाद में मनोज वाजपेई ने थिएटर भी ज्वाइन कर लिया था. जिसके बारे में घर वालों को इन्होंने पहले नहीं बताया था लेकिन बाद में उन्होंने अपने पिता को इसके बारे में बताया और फीस भरने के लिए ₹200 मांगे तो पिता ने इनको भांड कहा और कहा कि मुझे किसी की बात नहीं सुननी. जब फिल्म सत्या मनोज वाजपेई के लिए बहुत बड़ी साबित हुई तो उनके कैरियर को नया मोड़ मिला और इस फिल्म के लिए इनको फिल्म फेयर एक्टर का बेस्ट अवार्ड भी मिला. साथ ही अब तक इन्होंने 70 से ज्यादा फिल्मों में काम कर लिया है और आज इनकी एक्टिंग का डंका हर तरफ बजता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here