चंद्रग्रहण: गर्भवती महिलाएं को इन बातों का जरूर ध्यान रखना चाहिए

0

गर्भवती होने के बाद एक चुक भी आपको परेशानी में डाल सकती है। आपको जानकारी के लिए बता दे कि 5 जुलाई को उपच्छाया चंद्रग्रहण होने वाला है जो कि अमेरिका, अफ्रीका व यूरोप के साथ ही कई स्थानों पर होगा। इसका धार्मिक महत्व है। इसके बारे में जानकारी दे तो जब पृथ्वी व चंदा के बीच सूर्य आता है तो पृथ्वी पर रोशनी नही आती हैं, इसे चंद्रग्रहण कहते हैं। इससे गर्भवती महिलाओं पर असर पडता है, अब इसके बारे में अन्य जानकारी भी विस्तार से देते है

ग्रहण को कभी भी नंगी आंखों से नही देखना चाहिए। धार्मिक मान्‍यताओं की बात करें तो इसके अनुसार, ग्रहण काल में गर्भवती महिला को घर में ही रहना चाहिए, यानी कि इनको बाहर नही निकलना चाहिए। अगर आप अनजानें में घर से बाहर निकलते हो तो बच्‍चे या मां को कोई नुकसान नही होगा।

इसके बारे में जानकारी दे तो ग्रहण के समय घर में ही रहना चाहिए और आराम करे। मान्यताओं के अनुसार ग्रहण काल के दौराल शरीर को थकाएं नही। इस ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला को चाकू का प्रयोग नही करना चाहिए और इसके साथ ही कैंची व सुई का भी उपयोग ना करे। ग्रहण के समय खाने, पीने के लिए मना किया जाता है।

अगर आपको ज्यादा भूख लग रही है तो बच्‍चे की सेहत के लिए कुछ खा सकती हो। इस समय नुकीली चीजों का उपयोग ना करें। इसमें सबसे बडी बात है कि ग्रहण के समय पति पत्‍नी को नही मिलना चाहिए। ऐसा भी माना जाता है कि ग्रहण के समय भगवान का नाम लेना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here