दुनिया की इन अजीबोगरीब कार स्टीयरिंग को देख हैरान रह जाएंगे आप

0
109

जयपुर। आज हम आपको कुछ ऐसी कार स्टीयरिंग के बारे में बताने जा रहे है जो कार से ज्यादा अपने लुक के लिए पॉपुलर हुई। ये स्टीयरिंग अपने असाधारण डिजाइन की वजह से काफी समय तक मार्केट में बनी रही। इसमें सबसे पहला नाम मासेराती बूमरैंग 1971 का है। 1970 के दशक की शुरुआत में वेज के आकार की कारें चलन में थीं जो अपने साथियों से अलग करता है वह अंदर पाया जाता है लगभग खड़ी स्थिति में स्टीयरिंग व्हील एक उपकरण क्लस्टर के चारों ओर सात गेज विभिन्न स्विच और चेतावनी रोशनी की एक सरणी के साथ घूमता है।

सन् 1985 में निसान की कॉमकॉम कॉन्सेप्ट डिजाइन अपने बॉक्सी फंक्शन ओवर फॉर्म बॉडी की वजह से काफी पॉपुलर रही। यह कार के इंटीरियर एक अलग लुक प्रदान करता था। इस स्टेरिंग में  ड्राइवर के पास डैशबोर्ड माउंटेड फोन एक फ्लॉपी डिस्क ड्राइव स्क्रीन पर प्रदर्शित एक जीपीएस और रसीद प्रिंटर तक शामिल किया गया था।

ऑलडस्माइल को अमेरिका में सबसे अधिक तकनीकी रूप से उन्नत ब्रांड के रूप में याद नहीं किया जाता है। 1986 की इंकास अवधारणा ने इसे एडवांस टेक्नोलॉजी के मामले में अग्रीम पक्ति में खड़ा कर दिया। इटालियन डिजाइन द्वारा निर्मित मध्य संलग्न चार दरवाजे वाले आराम से आराम करने वाले और सोफे जैसी सीटें और एक लड़ाकू जेट प्रेरित कमांड सेंटर की पेशकश करके इटैलडसाइन ने स्टेयरिंग व्हील दिया गया था।

टोयोटा और सोनी ने मिलकर पार्ट कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक 2001 पर्सनलाइजेशन ऑन डिमांड (POD) कॉन्सेप्ट डिजाइन को तैयार किया था। हालांकि यह भीड़ भाड़ वाले जापानी शहरों के लिए आकार में था लेकिन इसके इंटीरियर में चार यात्रियों के लिए अलग अलग धुरी वाली सीटों पर जगह की पेशकश की गई थी जिनमें से प्रत्येक में बड़ी स्क्रीन थी ड्राइव बाय वायर तकनीक ने स्टीयरिंग दी गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here