योगी ने सवर्णों के भारत बंद पर कहा, इस बंद का कोई मतलब नहीं

0
81

जयपुर। भारत में 6 सितम्बर को सवर्ण समाज के लोगों ने भारत बंद का ऐलान किया था, सवर्ण समाज का ये विरोध सरकार द्वारा एससी एसटी एक्ट के विरोध में है।  इस विरोध पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी  आदित्यनाथ ने प्रतिक्रिया व्यक्त की। योगी ने कहा की  “भारत बंद का कोई मतलब नहीं, लोगों की भावनाएं है। लोकतंत्र में सभी को अपनी भावनाएं व्यक्त करने का अधिकार है। सरकार सबकी सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।“

इस दौरान योगी ने कहा की “ हम लोगों को जाति, मत और मजहब में बांटने के पक्षधर नहीं है। हमने संरक्षण के लिए कानून बनाये है। कानून का दुरुपयोग किसी भी हाल में नहीं होगा।“

आपको बता दे की कोर्ट ने एक मामले की सुनवाही करते हुए एससी एसटी एक्ट के मामले में तुरंत गिरफ़्तारी पर रोक लगा दी थी, जिसके चलते देश भर में दलितों ने भारत बंद करा था और इस आन्दोलन भी कई जगह से हिंसा की खबर भी आई थी।

वहीं एनडीए के कई दलों ने कोर्ट के इस आदेश को बदलने की मांग शुरू कर दी  थी और विपक्ष के भी इस मुद्दे को बार बार उठाने के बाद सरकार ने इसे बदल दिए जिससे कोर्ट के आदेश का कोई भी असर नहीं रहा, जिसका अब स्वर्ण लोग विरोध कर रहे है।

कई स्वर्ण समाज के लोगों में सरकार के इस निर्णय के चलते नाराजगी है हालांकि स्वर्ण समाज के इस भारत बंद को पूरी तरह से सफल नहीं कहा जा सकता है लेकिन इस भारत बंद ने देश में कई जगह हलचल देखी गई और ये हलचल बीजेपी के लिए खतरे की घंटी है। इस वक्त बीजेपी चारो ओर से घिरी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here