योगी आदित्यनाथ ने कहा, बकरीद पर ना हो गोवंश की कुर्बानी

ईद-उल अजहा के मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि किसी भी कीमत पर गोवंशी की कुर्बानी ना होने पाए।

0
183

जयपुर। सावन के पावन महीने में मुस्लिम बंधुओं का पाकीज़ा पर्व ईद-उल अजहा (बकरीद) 33 साल के बाद आया है। गौरतलब है कि मुस्लिम हिजरी कैलेंडर चांद के हिसाब से चलता है। इसी वजह से हर साल यह 11 दिन पीछे हो जाता है। पिछले साल बकरीद 2 सितंबर की थी। इस बार बकरीद 22 अगस्त को मनाई जाएगी। इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को खास निर्देश दे दिए हैं।

बता दे कि इस मौके पर सीएम योगी ने कहा है कि किसी भी कीमत पर गोवंश की कुर्बानी नहीं होनी चाहिए। क्योंकि इससे सांप्रदायिक सद्भावना को खतरा हो सकता है। योगी ने अधिकारियों को खास तौर पर कानून-व्यवस्था दुरुस्त बनाए रखने के खास प्रबंध करने को कहा है। चूंकि इस समय श्रावण मास में कावड़ यात्रा भी चल रही है, इसी वजह से किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोकने के लिए खास इंतजाम करने के उपाय करने को कहा है।

चूंकि कई लोग माहौल बिगाड़ने की कोशिश में प्रतिबंधित पशु जैसे गाय की कुर्बानी की अफवाह भी फैला सकते है। आजकल मोब लिचिंग एक चिंतनीय घटना हो चुकी है। ऐसे में योगी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिला अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए हैं। चूंकि उत्तर प्रदेश में मुस्लिम आबादी काफी है। ऐसे में बकरीद के मौके पर शान्ति व्यवस्था बनाए रखना बहुत मुश्किल काम है। क्योंकि असामाजिक तत्व ऐसे समय की ही ताक में रहते हैं।

योगी ने साफ कर दिया है कि परंपरा के नाम पर गोवंश की कुर्बानी करने की अनुमित किसी भी कीमत पर नहीं दी जाएगी। वही धार्मिक स्थलों के आसपास उपद्रव मचाने वाले लोगों को बख्शा नही जाएगा। योगी ने खास तौर पर बकरीद के अवसर पर सभी मस्जिदों के आसपास भारी संख्या में पुलिस बल तैनात करने के भी आदेश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here