विश्व में लगातार बढ़ती कोरोना महामारी, वैज्ञानिकों ने बताया यह तीन नए कोरोना लक्षण

0

जयपुर।इस समय विश्व में कोरोना वायरस का संक्रमण कम होने का नाम नहीं ले रहा है इस की बढ़ती रफ्तार के साथ विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक करोड़ के पार पहुंच चुकी है और 5 लाख से ज्यादा लोगो की मौत हो चुकी है।वैज्ञानिक अभी भी कोरोना वायरस की वैक्सीन की खोज में लगे हुए है।लेकिन अभी तक किसी प्रकार की प्रभावी दवा की खोज नही की जा सकी है।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर किए जा रहें शोध में उसके नए लक्षण भी सामने आ रहे है। अब तक कोरोना वायरस के सामान्य लक्षण के तौर पर सर्दी—जुकाम, बुखार, सांस लेने में परेशानी, सूखी खांसी और शरीर की थकान जैसे शारीरिक बदलावों को ही कोरोना वायरस का लक्षण माना जाता था।

लेकिन बाद में शरीर में चकते बनाना, हाथों—पैरों की अंगुलियों के बीच घाव बनाना भी कोरोना वायरस के लक्षण माने गए थे।जिसके बाद अब कोरोना संक्रमण पर काम कर रही अमेरिका की मेडिकल संस्था सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन ने कोरोना के तीन नए शारीरिक लक्षणों को बताया है।

अमेरिका की मेडिकल संस्था सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन ने लगातार नाक का बहना, उबकाई आना और डायरिया की परेशानी को कोराना वायरस का संभावित संकेत माना है।हालांकि शरीर में इस प्रकार की परेशानी अन्य किसी कारण से भी हो सकती है।

लेकिन कोरोना संक्रमण के इस दौर में इन लक्षणों को नजरअंदाज ना करें और बार—बार ऐसा होने पर आपको समय रहते कोरोना की जांच अवश्य करवाना चाहिए।कोरोना संक्रमण के इस दौर में शरीर को कोरोना वायरस के संक्रमण से दूर रखने के लिए सोशल डिस्टेंशिंग और पर्सनल हाइजीन के साथ अपने चेहरे पर मास्क का इस्तेमाल करना अनिवार्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here