विश्व कप : आज भिड़ेंगी श्रीलंका और आस्ट्रेलिया

0
33

आईसीसी विश्व कप-2019 में आज मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया का सामना श्रीलंका से होगा। आस्ट्रेलिया इस समय अंकतालिका में दूसरे स्थान पर है। उसके चार मैचों में छह अंक है।

वहीं, अगर श्रीलंका की बात की जाए तो उसके पिछले दो मैच बारिश के कारण रद्द हो गए थे।

दोनों टीमों की तुलना की जाए तो इस मैच में आस्ट्रेलिया का पलड़ा काफी मजबूत है। उसकी बल्लेबाजी से लेकर गेंदबाजी और फील्डिंग श्रीलंका से कई गुना बेहतर है।

बल्लेबाजी में डेविड वार्नर ने पाकिस्तान के खिलाफ शतक जमाया था और कप्तान एरॉन फिंच ने भी 82 रनों की पारी खेली। मध्य क्रम हालांकि बड़ी पारी नहीं खेल सका था, लेकिन स्टीवन स्मिथ, उस्मान ख्वाजा ने पिछले मैचों में बल्ले से अच्छा योगदान दिया है।

वहीं गेंदबाजी में स्टार्क हर मैच में अपना कहर बरपा रहे हैं। भारत के खिलाफ हालांकि वो ज्यादा असरदार नहीं रहे थे लेकिन वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होंने अहम समय पर तीन विकेट ले जीत की ओर बढ़ती दिख रही विंडीज को हार की तरफ मोड़ दिया था।

श्रीलंका की कमजोर और अनुभवहीन बल्लेबाजी के सामने स्टार्क का सामना करना सबसे बड़ी चुनौती है। स्टार्क के अलावा पैट कमिंस और नाथन कल्टर नाइल भी टीम की कड़ी परीक्षा ले सकते हैं।

श्रीलंका की बल्लेबाजी में अगर किसी के बल्ले से रन निकले हैं तो वो हैं कप्तान दिमुथ करुणारत्ने। कप्तान ने एक अर्धशतक जमाया है, लेकिन उनके अलावा कोई और बल्लेबाज आगे आकर रन नहीं कर सका है।

अनुभवी एंजेलो मैथ्यूज का बल्ला भी नहीं चला है। श्रीलंकाई टीम प्रबंधन उम्मीद करेगा कि कप्तान के अलावा अविश्का फर्नाडो, कुशल परेरा, लाहिरू थिरिमाने रन करें।

वहीं गेंदबाजी में श्रीलंका का दारोमदार लसिथ मलिंगा के कंधों पर रहेगा। नुवान प्रदीप ने अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में अच्छी गेंदबाजी की थी इसलिए उनसे भी उम्मीदें बढ़ गई हैं।

टीमें (संभावित) :

आस्ट्रेलिया : एरॉन फिंच (कप्तान), जेसन बेहरनडार्फ, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), नाथन कल्टर नाइल, पैट कमिंस, उस्मान ख्वाजा, नाथन लॉयन, शॉन मार्श, ग्लैन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, डेविड वार्नर, एडम जाम्पा।

श्रीलंका : दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), अविश्का फनार्डो, लाहिरू थिरिमाने, एंजेलो मैथ्यूज, धनंजय डी सिल्वा, इसुरु उदाना, मिलिंदा श्रीवर्दना, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, कुशल परेरा (विकेटकीपर), कुशल मेंडिस, जैफ्री वैंडरसे, लसिथ मलिंगा, सुरंगा लकमल, नुवान प्रदीप।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleडॉक्टरों के हड़ताल से बढ़ी परेशानी : दिल्ली में 1000 सर्जरी टलीं, 40 हजार मरीजों को नहीं मिला इलाज
Next articleमासूमों की अंगुली थामकर कश्मीर का भविष्य बचा रही भारतीय सेना
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here