हिंदी दिवस 2018: वर्ल्ड कप में जब पहली बार भारत-पाक मैच में अमिताभ ने हिंदी में कमेंट्री कर जीता था सबका दिल!

पूरे भारत में आज यानि 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जा रहा है । बता दें की 1947 में देश को आजादी मिलने के बाद दो साल बाद यानि 14 सितंबर 1949 को संविधान संभा में हिंदी को राजभाषा घोषित किया गया था ।

0
60

जयपुर( स्पोर्ट्स डेस्क)। पूरे भारत में आज यानि 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जा रहा है । बता दें की 1947 में देश को आजादी मिलने के बाद दो साल बाद यानि 14 सितंबर 1949 को संविधान संभा में हिंदी को राजभाषा घोषित किया गया था । और फिर इसके बाद हर साल इस दिन हिंदी दिवस मनाया जाता है। हम ऐसा वाक्या के बारे में बताने जा रहे हैं जब बॉलीवुड के शंहशाह ने हिंदी में क्रिकेट कॉमेंट्री करके करोड़ों फैंस का दिल जीता था।

बॉलीवुड के सुपर स्टार अमिताभ बच्चन ने 2015 के विश्वकप में भारत और पाकिस्तान के बीच खेल गए रोमांचक मैच में हिंदी कॉमेंट्री करके दिल जी लिया था । बता दें की इस मैच में अमिताभ ने राहुल द्रविड़, शोएब अख्तर, अरूण लाल और कपिल देव के साथ कमेंट्री की।

सबसे पहले उनके साथ कमेंट्री बॉक्स में आकाश चोपड़ा और पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब थे। बता दें की उस दौरान अमिताभ बच्चन ने फील्ड पोजिशंस और सालामी बल्लेबाज शिखर धवन की तकनीक के बारे में बिल्कुल एक्सपर्ट की तरह बात की।

कमेंट्री के दौरान अमिताभ ने क्रिकेट से जुड़ी कई यादों को साझा भी किया था। गौरतलब है कि उस दौरान अमिताभ ने कमेंट्री के बाद अपनी खुश ट्वीटर पर जाहिर करते हुए लिखा भारत – पाक मैच के लिए कमेंट्री पूरी हुई, कपिल, राहुल, शोएब जैसे दिग्गजों के

साथ होने को लेकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं 300 का अनुमान लगाया था जिसे पा लिया । गौरतलब है कि इस मैच में भारत ने करीब 76 रनों से जीत दर्ज की थी और वह यादगार मैच रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here