Vastu tips: गलत दिशा में बनाया गया खाना करता है सेहत खराब

0

वास्तुविज्ञान में दिशा और स्थान का विशेष महत्व बताया गया हैं वही रसोई एक ऐसी जगह होती हैं जहां गृहणी अन्नपूर्णा और भोज्यकर्ता बन जाती हैं वास्तु अनुसार अगर रसोई घर का वास्तु सही नहीं होता है तो उससे घर में परेशानियां उत्पन्न हो सकता हैं तो आज हम आपको रसोई से जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

बता दें कि रसोई घर हमेशा ही आग्नेय कोण यानी दक्षिण दिशा में होना चाहिए जहां मंग और सूर्य की रेखाएं टकराती हैं वहां शुक्र की डायरेक्शन क्रिएट हो जाती हैं इसलिए इस दिशा में रसोई बनवाना शुभ माना गया हैं। सबसे पहले तो रसोई को हमेशा ही साफ रखना चाहिए। साथ ही खाना हमेशा आग्नेय कोण यानी दक्षिण पूर्व दिशा में बनवाना चाहिए। इस दिशा में बनाया गया भोजना ना केवल पौष्टिक होता है साथ ही इसमें बैक्टीरिया ग्रोथ भी कम होती हैं साउथ ईस्ट डायरेक्शन को बहुत ही गर्म माना जाता हैं इसलिए इस दिशा में भोजना नहीं बनाना चाहिए।

वही गैस स्टोव भी दक्षिण पूर्व की दिशा में ही रखना चाहिए यानी जब आप खाना बना रही है तो आपका चेहरा दक्षिण पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। ईस्ट और साउथ डायरेक्शन में भी खाना बना सकती हैं। मगर इस बात का ध्यान रखें कि रसोई का शेल्फ गैस बर्नर के ऊपर ना हो। इससे खाना खराब होता हैं साथ ही आटा शक्कर भी दक्षिण पूर्व की दिशा में रखना चाहिए। गैस सैलेंडर साउथ दिशा में रखें। पानी की व्यवस्था हमेशा नार्थ इस्ट दिशा में रखें। अगर नार्थ ईस्ट में शेल्प भी बनवा रखी हैं तो पानी की नल उससे कम से कम आधा इंच नीचा होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here