वेदांता को एलएसई सूची से हटाने से नहीं होगा साख पर असर : मूडीज

0
108

मूडीज इन्वेस्टर सर्विस ने गुरुवार को कहा कि अनिल अग्रवाल की अगुवाई वाली कंपनी वेदांता रिसोर्सेस को लंदन स्टॉक एक्सचेंज द्वारा प्रस्तावित सूची से हटाने से कंपनी की साख पर तत्काल कोई असर नहीं होगा। मूडीज ने हालांकि कहा कि इसके स्वामित्व वाली कंपनी वोल्कन इन्वेस्टमेंट लिमिटेड द्वारा प्राकृतिक संसाधनों को पूरी तरह से अधिकार में लेने की घोषणा से नकदी संग्रह का संकट बना रहेगा।

इसी सप्ताह वेदांता रिसोर्सेस और अनिल अग्रवाल के ऐच्छिक न्यास के पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी वोल्कन इंवेस्टमेंट ने घोषणा की थी कि वेदांता की शेष हिस्सेदारी के लिए उसने हर संभव नकदी की पेशकश पर सैद्धांतिक समझौता किया है।

मूडीज के बयान के अनुसार, “पेशकश में वोल्कन को शेष 33.47 फीसदी हिस्सेदारी के अधिग्रहण के लिए अनुमानित एक अरब डॉलर कंपनी को देनी होगी। अगर वोल्कन 90 फीसदी या उससे अधिक हिस्सेदारी हासिल करने में सफल रही तो वेदांता को लंदन स्टॉक एक्सचेंज की सूची से हटाया दिया जाएगा।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here