गाड़ी चलाते हुए क्यों आती है नींद, जानिये इसका कारण

0
110

जयपुर। इस बात तो हम बहुत ही अच्छे से वाकिफ है कि जब आप किसी वाहन को चलाते है तो थोड़ी देर के बाद नींद आना शुरू हो जाती है। एकदम चुस्त दुरुस्त होकर वाहन चलाते है लेकिन ड्राइविंग करते हुए नींद आने की समस्या एक गंभीर मगर स्वाभाविक तौर पर होने वाली क्रिया है। कभी हम इसके बारे में नहीं सोचते है कि आखिर किस कारण से ऐसा होता है। शोधकर्ताओं ने इस बता को ज्ञात करने के लिए शोध किया है कि गाड़ी चलाने के मात्र 15 मिनट बाद ही आपको धीरे धीरे झपकी आने लग जाती है।

इसके कारण से कई बार सड़क दुर्घटनाएं भी हो जाती हैं। शोध से ज्ञात हुआ है कि ज्यादातर रोड़ एक्सीडेंट नींद आने की वजह से ही होते है। वैज्ञानिकों ने इसके बारे में बताया की आपको झपकी आती है तो आपकी वाहन चलाने की एकाग्रता और सावधानी बिल्कुल जीरो स्तर पर चली जाती है। अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि करीबन 20 फीसदी फसगंभीर सड़क हादसे चालक को नींद आने की वजह से होते हैं। शोध से ज्ञात हुआ है

कार निर्माता सीट को बेहतर सुविधाओं से लैस कर दे तो नींद आने की संभावना काफी कम हो सकती है। आपको बता दे कि सीट का ज्यादा आरामदायक होना भी नींद आने के लिए जिम्मेदार तत्व होता है। बता दे कि इन दिनों स्मार्टफोन और तकनीकी उपकरणों के बढ़ते इस्तेमाल से इंसान की नींद में खलल पड़ने लगा है। वैज्ञानिक बताते है कि एक स्वस्थ व्‍यक्ति को औसतन 7-9 घंटे की नींद लेना जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here