क्या हड्डियों की मजूबती के लिए दूध पीना आवश्यक है ?

0
159
जयपुर. हम सब जानतेे है कि दूध एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो किसी को पीना पसंद होता है और किसी को नहीं, खैर ये तो सब पसंद कि बात है, लेकिन फिर भी हंमें बचपन से यहीें सलाह दी जाती रही है कि सदैव दूध पीते रहना चाहिए क्योंकि इसमें कैल्शियम होेता है जो कि हड्डियों  कि मजबूती के लिए आवश्यक  है।
दूध और हड्डियों से जुड़े इसी रहस्य का पता लगाने के लिए वर्ष 1997 में हावर्ड यूनिवर्सिटी ने 77000 महिला नर्सो पर एक प्रयोग किया। इन नर्सो के खानपान का 10 वर्षो  तक गहन अध्ययन किया गया. अध्ययन में सामने आया कि जो महिलाएं हफ्ते में एक बार या उससे भी कम दूध पीती हैं और जो हफ्ते में तीन या उससे ज्यादा बार दूध पीती हैं दोनों के ही हड्डियों के फ़्रेक्चर होने की संख्या में कोई भिन्नता नहीं दिखाई देती है। इसी दल ने एक ऐसा ही अध्ययन तीन लाख 30 हज़ार पुरूषों पर भी किया और यहां भी पूर्व के ही परिणाम सामने आये।
वर्ष  2015 में न्यूज़ीलैंड के एक दल ने दूध के प्रभाव को जानने के लिए एक परीक्षण किया जिसमें कुछ लोगों के भोजन में कैल्शियम तत्वों वाली चीज़ों को जोड़ा गया। इस दल ने 15 पुराने अध्ययनों को भी पुन: जाँचा और देखा कि दो वर्षो  तक तो कैल्शियम से हड्डियों के घनत्व पर  प्रभाव पड़ा है परन्तु दो साल बाद समय के साथ दूध से हड्डियों पर कुछ अधिक फ़र्क़ नहीं पड़ता।
दूध लाभदायक है या नहीं इसके लिए वर्ष  2014 में दो नये अध्ययन सामने आये जिनके मुताबिक़ जो लोग दिन में तीन ग्लास या उससे ज़्यादा दूध पीते हैं उनकी हड्डियों को इससे कोई लाभ नहीं होता बल्कि ये हानिकारक हो सकता है।
अभी तक जो भी अध्ययन हुए उनसे यहीं स्पष्ट होता है कि अगर आप दूध पीते है, तो अच्छा है, हो सकता ये हड्डियों पर असर करता हो मगर हड्डियों कि मजबूती के लिए कोई अन्य विकल्प भी हो सकता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here