ज्योतिषशास्त्र: बच्चों के साथ अपराध होने के लिए ये ग्रह होते हैं जिम्मेदार, जानिए

0
52

आपको बता दें, कि बच्चों का जीवन आमतौर पर चन्द्रमा और शुक्र से नियंत्रित होता हैं वही बच्चों का चन्द्रमा दूषित हो तो बच्चे अपराध का शिकार हो जाते हैं वही बच्चे की कुंडली में शुभ ग्रह कमजोर हो तो भी बच्चे अपराध के शिकार हो जाते हैं अगर शुक्र दूषित हो तो बच्चे दूसरे बच्चों के साथ अपराध करते हैं वही अगर बृहस्पति मजबूत हो तो बच्चे सुरक्षित बने रहते हैं। वही आज हम आपके बच्चों के अपराध होने से जुड़े कुछ ग्रहों के बारे में बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं।

जानिए कब बच्चों के साथ हिंसक अपराध हो जाते हैं—
जब बच्चे के चन्द्रमा के साथ मंगल भी खराब होता हैं वही जब बच्चे का केतु खराब होता हैं बच्चे की कुंडली में अग्नि तत्व की मात्रा ज्यादा हो जाती हैं।

जानिए उपाय—
बच्चे को हनुमान चालीसा का पाठ करवाएं या फिर हनुमान चालीसा पढ़कर सुनाएं। वही बच्चे के गले में एक ताम्बे का सिक्का लाल धागे में धारण करवाएं

जानिए कब बच्चे के साथ यौन अपराध हो जाते हैं—
जब बच्चे का शुक्र कमजोर हो।
जब बच्चे की कुंडली में सप्तम भाव दूषित हो
जब बच्चे के केंद्र स्थान में राहु या केतु हो।

जानिए उपाय—
बच्चे को जागरूक बनाएं।
बच्चे को गायत्री मंत्र पढ़ने का अभ्यास करवाएं।
एक पीले कागज पर गायत्री मंत्र लिखकर गले में धारण करवाएं।

जानिए कब बच्चे, दूसरें बच्चों के साथ अपराध करते हैं—
जब बच्चे का चन्द्र और शनि, दोनों दूषित होता हैं
जब बच्चे की कुंडली में अष्टम भाव में पाप ग्रह हो।
जब बच्चे की कुंडली में राहु का प्रभाव ज्यादा हो।

जानिए कैसे बचाया जा सकता हैं बच्चे को अपराध करने से—
बच्चे को फास्ट फूड कम से कम खिलाएं।
बच्चे को नित्य प्रात सूर्य की उपासना करवाएं।
उससे सूर्य को जल अर्पित करवाएं।
बच्चे के गले में एक मून स्टोन जरूर धारण करवाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here