जहां जेटली के बच्चे पढ़े, उन्होंने अपने ड्राइवर के बच्चों को भी वहीं पढ़ाया

0
71

जयपुर। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की शख्सियत के बारे में बहुत कुछ लिखा जा रहा है और उनकी शख्सियत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने जिस स्कूल में अपने बच्चों को पढ़ाया,  उसी स्कूल में अपने ड्राइवर के बच्चों का भी दाखिला कराया को बता दें कि उन बच्चों की पढ़ाई चाणक्यपुरी स्थित कार्मेल कान्वेंट स्कूल में हुई है.

अरुण निजी तौर पर जुड़े हुए लोग बताते हैं कि अरुण जेटली अपने निजी स्टाफ के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के लिए कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां निभाते थे उनके परिवार की देखरेख भी अपने परिवार की तरह करा करते थे. इसके अलावा आपको बता दें कि वह अक्सर अपने परिवार का हिस्सा होने मांगते हुए उन्हें वह इज्जत और उनके जीवन स्तर को उठाने के लिए हमेशा से कार्यरत रहते थे.

रानी आपको बता दें कि अगर कोई कर्मचारी का प्रतिभा वाहन बच्चा विदेश में पढ़ने के लिए इच्छुक होता था तो उसे विदेश पढ़ने के लिए भी अरुण जेटली भेजते थे और उन्होंने नहीं भेजा जहां जेटली के बच्चे पढ़ रहे थे वही आपको बता दें कि ड्राइवर जगन और सहायक पद में सहित कर्मचारियों की जो जेटली के लिए काम करते थे पिछले दो-तीन दशकों से उनके साथ जुड़े हुए हैं और इनमें से तीन के बच्चे अभी विदेश में पढ़ रहे हैं.

मीडिया में उनकी बातों को लेकर आ रही खबर कैसे यह भी बताया जा रहा है कि नहीं अरुण जेटली के परिवार के खानपान की पूरी व्यवस्था देखने वाले जोगेंद्र की दो बेटियों में से एक-एक लंदन में पड़ रही है वहीं जेटली के साथ हरदम रहने वाले उनके सहयोगी गोपाल भंडारी का एक बेटा डॉक्टर और दूसरा बेटा आज इंजीनियर बन चुका है.

यह सभी बातें बताती हैं कि किस तरीके से जीत ली अपने निजी जीवन में अपने निजी स्टाफ का ध्यान रखते थे और लगातार उनके जीवन स्तर को बढ़ाने के लिए कोशिश करते रहे और उनका ध्यान रखा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here