पानी की कमी से बढ़ा कोरोना वायरस का खतरा, चैरिटी संगठन ने किया इस बात का दावा

0

जयपुर।आज के समय में विश्व पर कोरोना महामारी का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है।विश्व के कई देशों के वैज्ञानिक कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने वाली वैक्सींन बनाने की खोज में लगे हुए।लेकिन वैज्ञानिकों को अभी तक इसमें कोई सफलता नही मिली है।इसी बीच चैरिट संगठन वाटर ऐड ने दावा किया है कि विश्व में पानी का अभाव होने पर कोरोना वायरस का संक्रमण अधिक फैल सकता है।

चैरिटी संगठन वाटर ऐड ने बताया है कि ब्राजील की स्वदेशी आबादी से लेकर उत्तरी यमन में युद्ध ग्रस्त गांवों तक लगभग 3 अरब लोगों के पास घर में साफ पानी और साबुन से हाथ धोने का कोई विकल्प मौजूद ही नही है।इसके अलावा विश्व भर में झुग्गी-झोपड़ियों, शिविरों और अन्य भीड़-भाड़ वाली बसावटों में रहने वाले कई लोग प्रतिदिन पानी के टैंकर से

पानी लेने के लिए एकत्र होते है और जहां सोशल डिस्टेंस संबंधी नियम का पालन संभव नही है।जिससे कोरोना वायरस के बढ़ने का खतरा अधिक बना हुआ है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार अरब क्षेत्र में लगभग 7.4 करोड़ लोगों के पास पर्याप्त पानी के अभाव में हाथ धोने मूलभूत सुविधा नही है।

यूनिसेफ की जल एवं स्वच्छता टीम का कहना है कि निश्चित तौर पर बिना गहरी जांच के पानी की कमी को कोरोना वायरस के संक्रमण से जोड़ना आसान नही है, लेकिन पानी के बिना कई बीमारियों और वायरल संक्रमण का खतरा अधिक रहता है।

इसलिए पानी का बचाव करते हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने वाले उपायों को खोजना आवश्यक बना हुआ है।जल को व्यर्थ ना बहाए और इसका संरक्षण करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here