जल क्रांति योजना: पांच सालों में नहीं हुआ कोई काम, पानी की किल्लत से जूझ रहे कई गांव

0
24
MDF3129053.TIF

जयपुर। देश में लोक सभा के चुनाव चल रहे हैं और मोदी सरकार इन चुनावों में कई वादे कर रही है और ऐसे में ही आज हम आपको मोदी सरकार की एक और गाड़ी की जमीनी हरकत हकीकत के बारे में बताने जा रहे हैं जल क्रांति योजना जिसके तहत गांवों में पानी की किल्लत को कम करना था लेकिन जमीनी हकीकत इस योजना की यह है कि 5 सालों में इस योजना को लेकर कोई भी काम नहीं हुआ है.

आपको बता दें कि 5 जून 2015 को तत्कालीन जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने एक महत्वाकांक्षी योजना का शुरूआत करा था और इस की योजना का नाम जल क्रांति योजना रखा था और इसके तहत गांवों में हो रही पानी की किल्लत को दूर करने का काम शुरू किया गया था एवं खास तौर पर उन इलाकों में जहां पानी की भारी किल्लत है इसके तहत जल ग्राम योजना और मॉडल कमांड एरिया का गठन किया गया और प्रदूषण को कम करने और पानी की समस्या को दूर करने का काम इससे योजना के तहत कर आ जाना था.

लेकिन मीडिया रिपोर्ट के जरिए इस योजना की हकीकत सामने आई है और इस योजना की हकीकत यह है कि पिछले 5 सालों में इस योजना को लेकर कोई काम नहीं हुआ है और किसी भी गांव में इस योजना के तहत पानी की किल्लत को दूर नहीं किया जा सका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here