कार के लिए लेना चाहते है वीआईपी नंबर, तो जानिए ये बातें

0
169

जयपुर। जब आप कार खरीदते है तो आपको कार के साथ नंबर भी मिल जाता है। अक्सर लोग कंपनी द्वारा मिले नंबर का इस्तेमाल करते है तो कुछ लोग उन नंबर को ना लेकर अपने पसंद के हिसाब से नंबर प्लेट लगवाते है। अपनी मनपसंद नंबर लेने के लिए आपको कई बार सालों साल इंतजार भी करना पड़ता है। विश्व में कई ऐसे भी लोग है जो अपने पसंद की नंबर के लिए कार की कीमत से ज्यादा सिर्फ नंबर प्लेट पर खर्च कर डालते है।

हम आपको वीआई नंबर पाने के कुछ आसान तरीके बता रहे है। अपनी का नंबर पाने के लिए parivahan.gov.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा। इसके बाद वीप नंबर्स की बोली लगती है। वेबसाइट पर अलग-अलग राज्यों के लिए अलग-अलग नंबरों के विकल्प होते हैं। और हर नंबर के हिसाब से उसकी कीमत देनी होती है।

उदाहरण के रूप में दिल्ली में 0001 नंबर 2.35 लाख रुपये में बिका है इसके अलावा 0007 नंबर 90 हजार में बिका। लेकिन देश के दूसरे राज्यं में इस नंबर की कीमत कम या ज्यादा हो सकती है।

 

इस साइट पर आपको सिर्फ दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, ओरिशा, दादर और नगर हवेली, गोवा, गुजरात, हरियाणा,जम्मू और कश्मीर, पंजाब और झारखंड जैसे राज्य मौजूद है.

आपको बता दें कि कई बार वीआई नंबर प्लेट की कीमत बहुत ज्यादा भी होती है। जैसे अगर एक नंबर के लिए अधिक लोगों ने अप्लाई कर रखा है तो ऐसे में नीलामी के जरिए ही नंबर बेचा जाता है और उस समय जो ज्यादा कीमत चुकाता है नंबर उसका हो जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here