विजयाराजे सिंधिया का जन्मशताब्दी वर्ष समारोह शुक्रवार से

0
81

भारतीय जनता पार्टी सिंधिया राजघराने की विजयाराजे सिधिया ‘राजमाता’ का जन्मशताब्दी वर्ष शुक्रवार (12 अक्टूबर) से मनाने जा रही है। देशभर में सिंधिया की जन्मशताब्दी वर्ष को भव्यता के साथ मनाया जाएगा। मुख्य समारोह राजमाता की कर्मस्थली ग्वालियर में होगा, जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान स्वयं उपस्थित रहेंगे तथा कार्यक्रम के बाद महिला मोर्चा की मैराथन दौड़ को हरी झंडी दिखाएंगे।

प्रदेश अयक्ष व सांसद राकेश सिह ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया कि 12 अक्टूबर को ग्वालियर से शुरू होने वाली महिला मैराथन दिल्ली तक जाएगी। ग्वालियर से दिल्ली तक पहुंचने वाली महिला मैराथन दौड़ को मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान, चुनाव अभियान समिति के संयोजक व केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिह तोमर, मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष विजया राहटकर हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगी।

सिह ने कहा कि भाजपा की प्रदेश और केंद्र की सरकारें महिला सशक्तीकरण के लिए अपने विभिन्न नीतिगत निर्णयों तथा कार्यक्रमों के मायम से राजमाता की विचारधारा को जमीन पर उतारने का काम कर रही हैं। लिग अनुपात में संतुलन के साथ-साथ कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए आज देश में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान सरकारी और गैर सरकारी स्तर पर चल रहा है, जिसे प्रारंभ करने वाले चुनिदा प्रदेशों में मध्यप्रदेश है।

उन्होंने आगे कहा कि नाबालिग कन्याओं के साथ दुराचार करने वाले दरिदों को फांसी पर चढ़ाने वाला कानून बनाने में भी मध्यप्रदेश अग्रसर रहा और उल्लेखनीय है कि अब यह कानून केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर भी लागू कर दिया गया है।

सिंह ने बताया कि राज्य में विभिन्न स्थानों पर आयोजित कार्यक्रमों में महिला नेत्रियां शामिल होकर राजमाता के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालेंगी। पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती एवं प्रदेश शासन की मंत्री ललिता यादव सागर, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, मंत्री अर्चना चिटनीस एवं महापौर मालिनी गौड़ इंदौर, उत्तरप्रदेश की मंत्री रीता बहुगुणा जोशी एवं मंत्री कुसुम मेहदेले रीवा, केंद्रीय मंत्री निरंजना ज्योति एवं सांसद ज्योति धुर्वे छिदवाड़ा, सरोज पांडे एवं प्रदेश मंत्री कृष्णा गौर उज्जैन तथा सांसद मीनाक्षी लेखी व महापौर स्वाति गोड़बोले जबलपुर में आयोजित कमल शक्ति संवाद कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगी। इसी प्रकार अन्य सभी जिलों में महिला मोर्चा की प्रमुख कार्यकर्ता उपस्थित रहने वाली हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleरेटिना आंख की रील है : डॉ. अजय दुदानी
Next articleसबरीमाला फैसले ने जाति समूहों का पर्दाफाश किया : माकपा
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here