वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड को आज मिल सकती है, विलय की मंजूरी

इस विलय के बाद जो कंपनी बनने जा रही है वो भारत की सबसे बड़ी टेलीकाॅम कंपनी होगी।

0
62

वोडाफोन इंडिया और आइडिया सेल्यूलर की प्रस्तावित विलय योजना को दुरसंचार विभाग आज मंजूरी दे सकता हैं। इस विलय के बाद जो कंपनी बनने जा रही है वो भारत की सबसे बड़ी टेलीकाॅम कंपनी होगी। विलय के बाद इसका नाम  वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड रखा जायेगा। 

एक खबर के अनुसार वोडाफोन-आइडिया के विलय को दूरसंचार विभाग की ओर से सोमवार को मंजूरी मिल सकती हैं। आप को बता दे कि आंकड़ों के हिसाब से नई कंपनी की आय 1.5 लाख करोड़ रुपये से अधिक होगी। जो कि बाजार शेयर का 35 फीसद हिस्सा होगा। इसके ग्राहकों का आधार 43 करोड़ का हो जायेगा।

इन दोनों कंपनियों पर इस समय कर्ज का संयुक्त बोझ 1.15 लाख करोड़ रुपये का हैं। दूरसंचार विभाग आइडिया सेल्यूलर के स्पेक्ट्रम के एकबारगी शुल्क के लिए 2100 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी की मांग कर सकता है।

बताया जा रहा हैं कि साथ ही उसे यह भरोसा भी देना होगा कि वह अदालती आदेश के अनुसार स्पेक्ट्रम संबंधी सभी बकायों का निपटान करेगी। स्पेक्ट्रम शुल्क के टुकड़ों में भुगतान के लिए वोडाफोन इंडिया की एक साल की बैंक गारंटी की जिम्मेदारी भी आइडिया को लेनी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here