कोरोना से पहले किन वायरसों ने मचाया है दुनिया में कोहराम

0

जयपुर हेल्थ। साइंटिफिक अमेरिकन मैगजीन के अनुसार वैज्ञानिकों ने धरती पर करीब 6 लाख ऐसे वायरस खोज निकाले है जो जानवरों से इंसानों के शरीर में प्रवेश कर सकते हैं। आज हम कुछ ऐसे ही वायरस के बारे में जानेंगें। कोरोना वायरस- हाल ही में नजर आये कोरोना वायरस ने बहुत ही कम समय में पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले चुका है। वैज्ञानिकों का मनना है कि ये वायरस जनवरों से इंसानों में आया है।

सार्स- इस वायरस को कोरोना वायरस का पूर्वज माना जाता है। यह वायरस भी चीन के गुआंगडांग प्रांत से आया था। यह वायरस चमगादड़ो से इंसानों में पहुंचता है। इस वायरस के कारण 2 साल में 26 देशों के करीब 8 हजार लोगों की मौत हो चुकी है।

मर्स- यह वायरस भी कोरोना वायरस की ही फैमिली का माना जाता है। इसके बारे में पहली बार 2012 में पता चला था। इस वायरस से ग्रसित लोगों में कोरोना वायरस जैसे लक्षण ही देखे जाते हैं। इस वायरस में 40 से 50 फीसदी लोगों की मौत हो जाती हैं।

मारबर्ग- यह वायरस बंदरों से इंसानों में आया था। जो व्यक्ति इस वायरस से पीड़ित होता है उसे तेज बुखार के अलावा शरीर के अंदर अंगों से खून निकलने लगता है। जिसके कारण व्यक्ति की जान भी जा सकती है।

इबोला-इस वायरस के बारे में पहली बार 1976 में पता चला था। साल 2014 में अफ्रीका में यह बहुत ही खतरनाक तरीके से फैला था।

एचआईवी- इसे दुनिया का सबसे खतरनाक वारयस कहा जाता है। इससे संक्रमित व्यक्ति के बचने के कोई चांस नहीं होता है। इससे संक्रमित 96 फीसदी लोगों की मौत हो चुकी है। 1980 से लेकर अब तक एचआईवी से संक्रमित 3.20 करोड़ लोगों की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here