पिता पुत्र के संबंधों को मधुर बनाने के लिए करें इन उपायों को

0
93

जयपुर। वास्तु में बताई बातों को मानने से जीवन में कई परेशानी से निजात पाया जा सकता है। वास्तु हमारे घर परिवार से जुडी कई समस्या का निवारण करने के साथ जीवन में सकारात्मकता को बनाए रखने की सलाह भी देती है। वास्तु के उपाय निजी जीवन के साथ साथ व्यावसायिक जीवन की कई परेशानी का समाधान भी करते है।

आज इस लेख में हम वास्तु से जुड़ी कुछ बातों को बता रहें है जिससे पिता-पुत्र संबंध में चल रही अनबन को दूर करने के उपाय बता रहें हैं। अगर आपका बच्चा अपने पिता की बात नहीं मानता पिता से अक्सर लड़ाई-झगड़ा करता रहता है तो पिता पुत्र के संबंध में मधुरता लाने के लिए उपाय बता रहें हैं।

  • घर में अगर उत्तर-पूर्वी का भाग कहीं टूटा है तो इसका प्रभाव पिता-पुत्र के संबंधों में पडता है। इनसे कारण पिता पुत्र में बहस व लड़ाई होती हैं।
  • घर के उत्तर-पूर्व भाग में अगर घर का स्टोर रुम बना है तो इसके कारण पिता पुत्र के संबंधों में परेशानी आती है दोनों एक-दूसरे पर विश्वास नहीं करते।

  • अगर घर में रसोई या शौचालय को उत्तर-पूर्व दिशा में बना होने से घर में रहने वाले सदस्यों के आपसी संबंध खराब होते है।
  • घर के उत्तर-पूर्व दिशा को साफ रखें इस दिशा में गन्दगी होने से रिश्तों में नकारात्मक प्रभाव पडता है।

  • अगर घर के उत्तर-पूर्व दिशा में कोई इलेक्ट्रॉनिक सामान रखा होने से पुत्र-पिता के आदेशों को नहीं मानता।
  • घर के उत्तर-पूर्व दिशा कोने में कूड़ा-कर्कट रखा होने से पारिवार के सदस्यों के बीच ईर्ष्या की भावना पैदा होने लगती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here