वैलेंटाइन डे स्पेशल: एक फांसी से हुई थी वैलेंटाइन डे की शुरुआत, प्यार की खातिर…

0
70

जयपुर। जैसा की आप जानते हैं कि आज वैलेंटाइन डे हैं। तथा हर तरफ प्यार करने वाले कपल्स के बीच इसकी धूम देखी जा सकती है। क्योंकि वैलेंटाइन डे को प्यार करने वाले लोगों के दिन के रुप में जाना जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वैलेंटाइन डे हर साल 14 फरवरी को ही मनाया जाता है। तथा इस दिन लोग अपने प्यार का इजहार करते हैं। लेकिन ऐसे बेहद ही कम लोग होंगे जो वैलेंटाइन डे को मनाने के पीछे के इतिहास के बारे में जानते होंगे। इस लिए आज हम आपको इस आर्टिकल में बताने जा रहे हैं कि वैलेंटाइन डे मनाने की शुरुआत कब हुई। तथा वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है।  

आईपकी जानकारी के लिए बता दें कि वैलेंटाइन डे को लेकर ऑरिया ऑफ जैकोबस डी वॉराजिन नाम की एक पुस्तक  जिक्र किया गया है कि वैलेंटाइन डे रोम के एक पादरी संत वैलेंटाइन की याद में  मनाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि संत वैलेंटाइन दुनिया भर में प्यार की भावना को बढ़ाना चाहते थे। जिसके चलते संत वैलेंटाइन की याद में हर साल 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे मनाया जाता है।  

बता दें कि इस बुक में उत्तेख किया गया है कि उस समय रोम के राजा  क्लाउडियस संत वैलेंटाइन की बात से खुश नहीं थे। तथा वे प्रेम विवाह को गलत मानते थे। तथा रोम के राज क्लाउडियस प्यार करने वाले कप्लस पर काफी जुल्म भी करते थे। तथा उन्हें संत वैलेंटाइन की बातें पसंद नहीं थी।  

वहीं ऐसा माना जाता है कि रोम के राजा  क्लाउडियस का मानना था कि रोम के लोग पत्नी और परिवार के प्यार के चलते कमजोर हो जाते हैं। तथा वे रोम की सेना में भर्ती नहीं हो सकते। इश लिए राजा ने सेनिकों के शादी करने पर रोक लगा दी थी। लेकिन संत वैलेंटाइन ने राजा के इस फैंसले का विरोध किया। जिसके चलते कई सेनिकों ने संत वैलेंटाइन का समर्थन करते हुए शादी कर ली। इससे राजा क्रोधित हो गया। तथा उसने संत वैलेंटाइन को फांसी की सजा सुना दी।  जिसके बाद वैलेंटाइन को 14 फरवरी को फांसी दे दी गई। तब से ही हर साल संत वैलेंटाइन की याद में वैलेंटाइन डे मनाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here