उत्तर प्रदेश : हुड़दंगियों ने पुलिस की गाड़ी तोड़ी, बाइकों में लगाई आग, जानिए पूरा मामला !

0
76

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में के करियांव बाजार में रंग खेलने में हुआ विवाद दो गुटों में आगजनी और हिंसा में बदल गया। उपद्रवियों ने डायल-100 गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया और पुलिस वालों को भी घेर लिया गया। शनिवार को हुई इस घटना में पांच बाइकों को आग के हवाले कर दिया गया। शांति एवं सुरक्षा को लेकर इलाके में पीएसी की तैनाती की गई है। पुलिस ने दो दर्जन लोगों को हिरासत में लिया गया है।

मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी विशाख और पुलिस अधीक्षक सचिंद्र पटेल ने मामले की जांच के आदेश के साथ दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। अफसरों ने स्थिति नियंत्रण में बताई है। लेकिन दोषियों के खिलाफ कड़ी कारवाई का निर्देश दिया है।

पुलिस के अनुसार, होली की सुबह यानी शुक्रवार को रमयनपुर गांव स्थित ब्राह्मड्ढण बस्ती का एक युवक सामान लेने करियांव बाजार आया था। उसी दौरान बाजार के कुछ युवकों द्वारा उस पर रंग फेक दिया गया, जिसका युवक ने विरोध किया। इस वजह से दोनों पक्ष के बीच कहासुनी बढ़ गई और मामला बड़े लोगों तक जा पहुंचा।

देर शाम पुलिस जब मौके पर पहुंची तो किसी तरह मामला शांत कराया। दूसरे दिन शनिवार की सुबह रमयनपुर गांव का ही एक दूसरा युवक करियांव बाजार आया तो शुक्रवार को हुए वाद विवाद को लेकर कुछ व्यापारियों ने युवक को बुरी तरह पीट दिया। युवक को मारे-पीटे जाने की सूचना पर रमयनपुर गांव के लोग आक्रोशित हो गए।

वहां से कुछ लोग बाइक से घटना की जानकारी लेने के लिए करियांव बाजार आए तो स्थानीय व्यापारियों ने उन्हें घेरकर पीटना शुरू कर दिया। व्यापारियों के आक्रोश को देख उपरोक्त लोग बाइक छोड़कर किसी तरह जान बचाते हुए भाग निकले तथा इसकी जानकारी मोढ़ पुलिस चौकी व डायल 100 को दी गई।

डायल-100 मौके पर पहुंची तो व्यापारियों ने उसे भी अपना निशाना बनाते हुए उस पर पथराव कर छतिग्रस्त कर दिया। यह बात पुलिस महकमें में पहुंचने पर प्रशासन हरकत में आ गया। इसी दौरान वहां पर गये सिपाही स्वतंत्र सिंह को भी व्यापारियों ने घेर लियाए लेकिन पास के ही एक व्यक्ति द्वारा इसका विरोध करने पर सिपाही किसी तरह से बच सका।

मौके पर प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार पांडेय, क्षेत्राधिकारी सहित भारी संख्या में पुलिस व पीएसी ने पहुंचकर स्थिति को संभाला। इस बीच उपद्रवी तत्व वहां से पुलिस को देख भाग निकले। पुलिस ने मौके से मिले लगभग दो दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर कोतवाली ले गई। बाजार में पूरी तरह से सन्नाटा जहां पसरा रहा। आरोपी लोगों के घर के सदस्य घर छोड़कर भाग निकले।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleअरूण जेटली ने जम्मू एवं कश्मीर के छात्रों की तारीफ की, जानिए इसके बारे में !
Next articleसीबीआई ने इंद्राणी और कीर्ति चिदंबरम का कराया आमना-सामना, जानिए पूरा मामला !
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here