अजवायन का प्रयोग कर स्वास्थ्य के लिए नहीं वरदान से कम

अजवायन कोई आम मसाला नहीं है बल्कि यह बहुत ही कारगर चीज़ है , यह दिखने में जितनी चोटी है उतनी ही बड़ी बड़ी खासियत लिए हुए हैं ।

0
92

जयपुर । अजवायन का प्रयोग हर घर में खाने में किया जाता है कभी इसका तड़का मारा कर सब्जी को स्वादिष्ट बनाया  जाता है कभी इसका प्रयोग कर कई बीमारियों को दूर भगाया जाता है अजवायन कोई आम मसाला नहीं है बल्कि यह बहुत ही कारगर चीज़ है , यह दिखने में जितनी चोटी है उतनी ही बड़ी बड़ी खासियत लिए हुए हैं ।

आज हम बात कर रहे हैं अजावायन के प्रयोग के बारे में आप सभी को यह पता होगा की अजवायन का प्रयोग खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है कई लोग तो इसकी खुशबू और तड़के से कोसों दूर भागते हैं कहते हैं की हमको इसका सेवन अच्छा नही लगता हमको तो इसके नाम से भी उल्टी आती है कई लोग इसलिए नही खाते की यह उनको कड़वी लगती है पर क्या कभी आपने सोचा है यह इतनी छोटी सी चीज़ क्यों खाने में डाली जाती है हमें पता है की आपको इस बात का जरा भी इल्म नही होगा आइये जानते हैं इस बारे में ।

अजवायन का प्रयोग खाने में इसलिए किया जाता है क्योंकि इसका सेवन कई तरह के औषधीय गुण लिए हुए होता है आपको शायद नही पता पर यह पेट से जुड़ी बीमारियों का रामबाण इलाज़ है ।

अगर आपको कब्ज हो गई है तो आराम पाने के लिए अजवाइन की मदद से चूर्ण बनाएं। इसके लिए 10 ग्राम अजवायन में 10 ग्राम त्रिफला और 10 ग्राम सेंधा नमक मिलाकर पीसकर चूर्ण बना लें। रोजाना इसमें से 3 से 5 ग्राम चूर्ण गुनगुने पानी के साथ लें, बहुत जल्द ही आराम होगा।

याद आपको गैस की परेशानी हो रही है और आपको इसके कारण दर्द भी बहुत ज्यादा हो रहा है टोहबाप ½ चम्मच अजवायन में चुटकी भर हिंग और चुटकी बाहर नमक दाल कर सेवन कर लें यह आपको गैस की परेशानी से पल भर में ही छुटकारा दे देगा ।

आपको मांसपेशियों में कहीं भी ऐंठन हो रही है तो अजवायन की पोटली बनाकर उसको तवे पर रख कर गरम कर उस पोटली से उस जगह की सिकाई करें यह आपको तुरंत आराम देगा ।

यदि मौसम के बदलाव के कारण आपको जुकाम की परेशानी हो रही है तो इसी पोटली को गरम कर सूंघने से जुकाम रफादफा हो जाएगा ।

इसका सेवन मोटापा कम करने का भी काम करता है इसको रात को भीग कर सुबह में इस पानी को गुनगुना कर पीने से वजन कम होता है ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here