ट्रंप की भारत यात्रा! 8 करोड़ परिवारों के रोजगार पर खतरे का डर

0

इस महीने पहली बार अमरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भारत यात्रा पर आ रहे हैं। अहमदाबाद में ट्रंप के दौरे को लेकर केंद्र सरकार तैयारियों में जुटी हुई है। ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से भी पुख्ता बंदोबस्त रहने वाले हैं। ट्रंप के आगमन पर सीमित व्यापार समझौते के तहत भारत अमरिका के लिए अपना डेयरी और पोल्ट्री बाजार खोलने को मंजूरी दे सकता है। ऐसे में कई कयास भी लगाए जा रहे हैं।

दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक देश भारत है। अब तक सभी तरह के डेयरी उत्पादों पर रोक लगी हुई है। यदि मोदी सरकार डेयरी बाजार को आशिंक रूप से खोलने को मंजूरी देता है तो इसका असर भारत के लोगों पर पड़ने वाला है। भारत में 8 करोड़ परिवार ऐसे हैं, जो दुग्ध या फिर पशुधन पर निर्भर है। गांवों की आधी से ज्यादा आबादी पशुपालन पर निर्भर है। खेती करने के साथ पशुधन रखकर अपनी आजीविका चलाते हैं। ऐसे में भारत की अमेरिका के लिए पेशकश से इस सेक्टर पर बड़ा असर होने की आशंका हो गई है। भारत दौरे के दौरान पोल्ट्री डेयरी बाजार खोलने को लेकर सवाल भी खड़े हो रहे हैं। इससे करोडों परिवारों के रोजगार पर असर की आशंका देखने को मिल सकती है।

चीन के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा व्यापार साझेदार अमेरिका है। साल 2018 में भारत और अमेरिका के बीच व्यापार 10.12 लाख करोड़ तक पहुंच गया था। अमरिका का 9वां सबसे बड़ा व्यापार साझेदार भारत है। रिपोर्ट के अनुसार, भारत ने अमेरिकी चिकन लेग के आयात करने को मंजूरी प्रदान की है। इसके साथ ही ब्लूबेरीज के आयात को भी खोलने को अनुमति दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here