यूपी : सीएम योगी का कुंभ 2019 के प्रचार के लिए स्तरीय फिल्मों के निर्माण का निर्देश

0
103

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूचना विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए सक्सेज स्टोरी प्रकाशित करवाने का प्रयास किया जाए। उन्होंने साथ ही प्रयाग कुंभ-2019 के प्रचार के लिए स्तरीय और अच्छी फिल्में बनवाने के निर्देश दिए।

शास्त्री भवन में गुरुवार देर रात समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने यह निर्देश जारी किया। इस दौरान उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया, आउटडोर (होर्डिंग्स, एल.ई.डी.) एवं प्रचार साहित्य की विषय वस्तु, क्रिएटिव्स एवं डिजाइन के निर्माण एवं विभिन्न मीडिया में प्रचारित-प्रसारित करने के लिए ‘संवाद’ एजेंसी के गठन के भी निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की उपलब्धियों की सक्सेस स्टोरीज को व्यापक स्तर पर प्रसारित करते हुए यह भी सुनिश्चित किया जाए कि मीडिया में उन्हें स्पेस मिले। उन्होंने कहा कि सक्सेस स्टोरीज का प्रेजेंटेशन उत्कृष्ट होना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विभाग को उच्चीकृत करते हुए उपलब्ध तकनीक का सरकार के कार्यक्रमों, योजनाओं इत्यादि के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए सकारात्मक उपयोग किया जाए। उन्होंने राज्य सूचना केंद्र नई दिल्ली के सुदृढ़ीकरण के भी निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि मुंबई सहित देश के अन्य महानगरों में भी उत्तर प्रदेश राज्य सूचना केन्द्र स्थापित किए जाने चाहिए। विभाग द्वारा जारी किये जा रहे ‘क्रिएटिव्स’ और विज्ञापनों को और बेहतर व आकर्षक बनाने के निर्देश दिए।

योगी ने सोशल मीडिया का उल्लेख करते हुए सूचनाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार पर बल दिया। उन्होंने कहा कि इस संबंध में आवश्यकतानुसार वाट्सएप ग्रुप बनाए जाएं। राज्यस्तर व जिलास्तर पर इन सोशल मीडिया ग्रुपों से लोगों को जोड़ा जाए। ट्विटर पर शासकीय जानकारी त्वरित रूप से पोस्ट की जाए। उन्होंने जिलास्तर पर सरकार से संबंधित सभी पॉजिटिव और निगेटिव समाचारों का फीडबैक प्राप्त करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनपदों में तैनात विभागीय अधिकारियों के साथ वे एक बैठक कर फील्ड में किए जा रहे प्रचार-प्रसार संबंधी कार्यो की समीक्षा करेंगे।

बैठक के दौरान अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा सूचना संकुल के अन्तर्गत जिला सूचना कार्यालय भवन व प्रेस क्लब के निर्माण के लिए गोरखपुर, अयोध्या (फैजाबाद), वाराणसी एवं शाहजहांपुर के लिए 11 करोड़ रुपये के प्रस्ताव स्वीकृत किए गए हैं। छह अन्य जिलों महराजगंज, हरदोई, गौतमबुद्घनगर, गाजियाबाद, बलिया और श्रावस्ती में सूचना संकुल निर्माण के लिए प्रस्ताव प्राप्त हो गए हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleइंग्लैंड के इस दिग्गज स्पिनर खिलाड़ी के सामने टीम इंडिया ने बनाया ‘खास प्लान’,जानिए क्या है पूरा मामला
Next articleगणेश चतुर्थी पर जल्द मनोकामनाएं पूरी करने के लिए अपनाए ये आसान टिप्स
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here