यूपी: पंजाब से लाई गई 40 लाख की देशी शराब के साथ तस्कर गिरफ्तार

0
158

उत्तर प्रदेश के एटा में अवैध शराब की बरामदगी व अपराधियों की धर-पकड़ के लिए चलाए जा रहे अभियान के अन्तर्गत थाना पिलुआ पुलिस ने चेकिंग के दौरान ट्रक में छुपाकर ले जाई जा रही 805 पेटी अवैध देशी शराब सहित एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है।

जानकारी के अुनसार, 3 अप्रैल को प्रभारी निरीक्षक कोतवाली देहात शेर सिंह पुलिस बल के साथ थाना क्षेत्र में वांछित अपराधी/संदिग्ध वाहन की चैकिंग करते हुए चौकी जावड़ा पहुंचे। टूण्डला की ओर से एक संदिग्ध ट्रक आता दिखाई दिया, जिसे पुलिस बल ने चेकिंग हेतु रुकने का इशारा किया लेकिन रुकने की बजाय चालक ने ट्रक को तेजी से भगाने का प्रयास किया। पुलिस टीम द्वारा गाड़ी का पीछाकर करीब 100 मीटर की दूरी पर घेराबन्दी कर एक अभियुक्त को मय ट्रक पकड़ लिया गया।

दिल्ली निवासी गिरफ्तार अभियुक्त सजन सिंह बताया कि गाड़ी में पंजाब प्रान्त की देशी अवैध शराब भरी है, जिसे चंडीगढ़ निवासी संजीव सैंगर ने लोड कराकर एटा उ.प्र. में उतारने के लिए भिजवाया है। शराब से भरी ट्रक की प्रत्येक खेप उतारने पर उसे 20 हजार रुपये देने को कहा था। कब्जे में लिये गए ट्रक को चेक किया गया तो उसमें 805 पेटी गैरप्रांतीय देशी शराब बरामद हुई, जिसमें एक पेटी खोलकर देखा तो प्रत्येक क्वार्टर पर “हाई टाइम प्रीमियम व्हीस्की फोर सेल ओनली इन अरूणाचल प्रदेश” अंकित है।

बरामद शराब की अनुमानित कीमत 40 लाख रुपये है। गिरफ्तार अभियुक्त के पास से 4 फर्जी नम्बर प्लेटें बरामद हुई हैं। पुलिस टीम द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा ने 15000 रुपये से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई।

इस अवैध धन्धे में संलिप्त अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleअब एयरटेल देगा हर महीने 50 जीबी डेटा, जानिये पूरी खबर
Next articleयूपी बोर्ड डिजिटल लॉकर में होंगे 10th और 12th के अंकपत्र व प्रमाण पत्र
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here