Unlock 4.0: Delhi Metro और Indian Railway के साथ जनजीवन में कितना आएगा परिवर्तन

0

लॉकडाउन ने अर्थव्यवस्था को मानों निचोड़ कर रख दिया था । वैकल्पिक सीटों पर कब्जे के साथ अनिवार्य रूप से टोकन के बजाय स्मार्ट कार्ड का उपयोग किया जाने वाला है, प्रवेश और निकास के स्टेशनों तक सीमित पहुंच को प्राप्त करने में कुछ ऐसे बदलाव आए हैं जिसमें की यात्रियों को दिल्ली मेट्रो में अपने आवाजावी पर कुछ नियमों का ध्यान देना होगा और अपनी यात्रा के साथ -साथ और भी अन्य यात्रियों के लिए अनुकूलित करने की पूरी कोशिश करनी है।

Unlock 4.0 | Masks & Smart Cards: How Travelling In Delhi Metro Will Change?दिल्ली मेट्रो की सेवाओं को सात सितंबर से पांच महीने के बाद अब फिर से शुरू करने के लिए कुछ निर्धारित नियम रखे गए हैं । भीड़ में नियंत्रण के कुछ उपाय नेटवर्क के रूप में प्रत्येक स्टेशन में केवल एक या अधिकतम दो प्रवेश और निकास द्वार को कार्यात्मक बनाया गया है ।  सोमवार को येलो लाइन जो की समयापुर बादली से हुडा सिटी सेंटर और रैपिड मेट्रो गुरुग्राम को सुबह 7 से 11 बजे और शाम 4 से 8 बजे के बीच मेट्रो के साथ परिचालन को किया जाना है।

Coronavirus | Delhi Metro suspended till March 31 - The Hinduइसके अन्तर्गरत प्रत्येक प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर और साथ ही साथ सैनिटाइजर भी इसमें लगाए गए हैं। कोरोना के खिलाफ तापमान या अलार्म संकेतों वाले यंत्र लगाए जाने है , जिसके अन्तर्गरत जिन यात्रियों में किसी भी तरह के संकेत मिल रहें है उनको यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी बल्कि पहले उनकी पूरी जांच की जाने वाली है। मेट्रो अधिकारियों ने कहा कि इन सभी यात्रियों को निकटतम चिकित्सा केंद्र को रिपोर्ट करने के लिए निर्देशित किया जाने वाला है। यात्री जब एक बार स्टेशन के अंदर पहुचेंगे तभी से उन्हें कम्यूटर में संकेतों और चिह्नों का पालन करना होगा।

Here's why Delhi Metro's Magenta Line will set new trends: 5 things you  should knowजो की सोशल डिस्टेंसिंग उपायों को बताने के प्लेटफार्मों पर लगाया गया है।लिफ्ट और एस्केलेटर की यदि हम बात करतें हैं तो लिफ्ट में एक बार में केवल दो या तीन व्यक्तियों को प्रदान करने की  अनुमति होगी। एस्केलेटर की बात करतें हैं तो उसके लिए लोगों को सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दूरी पर खड़ा होना होगा। वायरस के संचरण की संभावना को रोकने के लिए सभी यात्रियों को टोकन के बजाय स्मार्ट कार्ड का उपयोग करना आवश्यक होगा क्योंकी  टोकन वेंडिंग मशीनों में टोकन जेनरेट करने की सुविधा को रोक दिया गया है।

Unlock 4.0 guidelines: What to expect from September 1 - Oneindia Newsयात्री अब OTP प्रणाली का उपयोग करने में सक्षम होंगे, जो की 7 सितंबर से स्वचालित किराया संग्रह के तौर पर स्मार्ट कार्ड का रिचार्ज करने में मदद करेगा। मेट्रो कोचों के अंदर हर समय मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना होगा , जिसके लिए स्टेशनों पर ट्रेनों का रुकने का समय 10-15 सेकंड से बढ़कर 20-25 सेकंड तक होएगा और वहीं दूसरी तरफ यह इंटरचेंज स्टेशनों पर रुकने का समय 35-40 सेकंड से 55-60 सेकंड तक बढ़ाया जाने वाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here