कंधे का असहनीय दर्द अब नहीं करेगा परेशान इस तरह से कर सकते हैं इसका इलाज़

आज कल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में हमारी मांस पेशियों को बहुत आगता पहौंचता रहता है जिसके जिम्मेदार भी हम ही होते हैं ।

0
67
Woman rubbing shoulder, rear view

 

जयपुर । आज कल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में हमारी मांस पेशियों को बहुत आगता पहौंचता रहता है जिसके जिम्मेदार भी हम ही होते हैं । हम किसी भी बात जा भी नहीं रहते हैं । जिस तरह से को लेकर सजग हम सारा दिन बैठते हैं जिस तरह से काम करते हैं , जिस तरह से सोते व्हाइन यह सब हमारी मांसपेशियों पर बहुत ही बुरा प्रभाव डालते हैं । खास  कर कंधे की ।

हमारे कंधे की मांसपेशियाँ बहुत ही कमजोर होती है । इस बात का पता बहुत ही कम लोगों को होता है । इसीलिए जब हम जिम करते हैं तो सबसे पहले हमारे कंधों की मसल्स पर ही ज्यादा ध्यान दिया जाता है । यह हल्के से ज़ोर से मसल्स के फटने की परेशानी का भी शिकार हो सकते हैं । ऊपर से हमारी लाइफ़स्टायल के कारण अक्सर हमको कंधों में दर्द बना ही रहता है । कई बार तो लगता है की जैसे झुब्न ही निकाल आयेगा । ऐसे में आज हम आपके इस तेज़ दर्द इको समझते हुए आपकी इस परेशानी का हल दिये देते हैं । आइये जानते हैं क्या किया जाये इस परेशानी का इलाज़ ।

यदि आपके पास समय की कमी है तो आप अजवायन को सूती कपड़े में लपेट कर उसको तवे पर सेकें । जब वह हल्का गरम हो जाये तो उससे सेक करे । यह आपके दर्द की परेशानी को तुरंत ही कम कर देगा । आप चाहे तो अजवायन के फूल का तेल भी काम में ले सकते हैं ।

बिल्ली आसन :- योगा मैट पर दोनों घुटनों को टेक कर बैठ जाएं। अब दोनों हाथों को फर्श पर आगे की ओर रखें। दोनों हाथों पर वजन डालते हुए अपने हिप्स (कूल्हों) को ऊपर उठाएं।जांघों को ऊपर की ओर सीधा करके पैर के घुटनों पर 90 डिग्री का कोण बनाए।इस स्थिति में छाती फर्श के समान्तर होगी और आप एक बिल्ली के समान दिखाई देगें।अब लंबी सांस लें और सिर को पीछे की ओर झुकाएं और रीढ़ की हड्डी का निचला भाग ऊपर उठाएं। सांस को बाहर छोड़ते हुए अपने सिर को नीचे की ओर झुकाएं और मुंह की ठुड्डी को छाती से लगाने का प्रयास करें। हाथ झुकने नहीं चाहिए। सांस को लम्बी और गहरी रखें। फिर से अपने सिर को पीछे की ओर करें और इस प्रक्रिया को 10 बार दोहराहएं।

इसके अलावा आप सूजन है तो पहले आइस थेरेपी और उसके अलावा स्ट्रेचिंग कर सकते हैं । उचित देख रेख और दर्द से हमेशा के लिए निजात पाने के लिए फिजियोथेरेपिस्ट की सलाह लें ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here