उमर खालिद ने सस्पेंड होने के बाद फेसबुक पर अपना पक्ष रखते हुए लिखा ब्लॉग

0
86

जयपुर। जवहारलाल नेहरु यूनिवर्सिटी ने कन्हैया कुमार और उमर खालिद की पीएचडी शुक्रवार को सस्पेंड कर दि जिसके बाद उमर खालिद ने फेसबुक पर अपना पक्ष रखते हुए ब्लॉग लिखा है।

उमर खालिद ने लिखा की भाजपा और मीडिया के कुछ लोग देश में सन्देश देना चाहते है की जेनयू में पढने वाले छात्र देश द्रोही है और उनको सस्पेंड करने का निर्णय सिर्फ एक नाटक है। उन्होंने कहा की पिछले 2 साल में ये तीसरी बार है जब जेनयू ने हमे सस्पेंड करने का आदेश जारी किया है और हर बार कोर्ट ने उस फैसले को ख़ारिज किया है।

खालिद ने जेनयू की उच्च स्तरीय बनी कमेटी को एक ड्रामा बताते हुए कहा की इस कमेटी की जांच पर कोर्ट कई बार सवाल खड़ा कर चूका है। उन्होंने कहा की जेनयू का ये निर्णय भाजपा के कहने पर लिया गया है और इसका उदेश्ये सिर्फ हमें बदनाम करना है। खालिद ने आगे लिखा कि हम पब्लिक फंडेड यूनिवर्सिटी में पड़ते है इसलिए हमारा समाज के प्रति कुछ दय्तिव है मेरी पीएचडी भी इस विषय में किस तरह से हमारे देश का एक तबका देश की राजनीति से बाहर है खालिद ने कहा की हम छात्र नेता है और हम अपनी पढाई के साथ राजनीति भी करते है। उन्होंने प्रधनमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में बेरोजगारी बढ़ रही है और देश का  किसान परेशान है उन्होंने कहा की 2019 में फिर झूटे वादे किए जाएगे और जुमले गड़े जाएगे। खालिद ने लिखा की ये बहुत शर्म की बात है कि हमारे फाइनल सबमिशन के दो हफ्ते पहले जेनयू ने ये फैसला लिया है लेकिन हम इसके सामने नहीं झुकेगे।

आपको बता दे की खलिद के साथ साथ कन्हैया कुमार की भी पीएचडी शुक्रवार को सस्पेंड कर दी गई है ।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here