कमजोर ग्रह को मजबूत बनाएंगे ये मंत्र, ​जानिए जाप के नियम

0

कुंडली और ज्योतिषशास्त्र में ग्रहों का विशेष स्थान होता हैं वही ज्योतिष विज्ञान में नौ ग्रह बताएं गए हैं जिनकी चाल का सीधा प्रभाव व्यक्ति के जीवन पर पड़ता हैं किसी भी व्यक्ति की कुंडली को देखकर ग्रहों की स्थिति ​का विचार किया जा सकता हैं जन्मपत्री यनी की कुंडली में जब ग्रह कमजोर होते हैं तो व्यक्ति को उससे संबंधित बुरे परिणाम प्राप्त होने लग जाते हैं। वही जब ग्रह मजबूत होता हैं तो जातकों को उसका प्रत्यक्ष लाभ भी मिलता हैं ग्रहों को मजबूत बनाने के लिए कुछ खास उपाय बताए गए हैं और इनमें सबसे अधिक कारगर उपाय हैं ग्रहों से जुड़े मंत्रों का जाप। तो आज हम आपको ग्रह और उनसे जुड़े मंत्र व लाभ बताने जा रहे हैं तो आइए जानते हैं। ज्योतिष में सूर्य ग्रह को ग्रहों का राजा माना गया हैं जीवन में मान सम्मान, नौकरी और समृद्धिशाली जीवन जीने के लिए सूर्य देव की कृपा बहुत जरूरी हैं और उनका आशीर्वाद पाने के लिए सूर्य ग्रह के बीज मंत्र का जाप करना चाहिए।

सूर्य का बीज मंत्र— ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः।
विधि— मंत्र को रविवार के दिन सुबह के समय स्नान ध्यान के बाद करीब 108 बार जाप करें।

चंद्र का बीज मंत्र— कुंडली में चंद्र दोष होने से जीवन में कलह क्लेश, मानसिक विकार, बीमारी, दुर्बलता, धन की कमी जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। चंद्रमा मन का कारक ग्रह होता हैं कुंडली में चंद्र को मजबूत करने के लिए चंद्र ग्रह के बीज मंत्र का जाप करना चाहिए।

चंद्र का बीज मंत्र— ॐ श्रां श्रीं श्रौं सः चंद्रमसे नमः।
विधि— मंत्र को सोमवार के दिन शाम के समय शुद्ध होकर करीब 108 बार जाप करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here