तूतनख़ामेन के पास है एक गुप्त कमरा, जानिये किस शख्स का है ये कमरा

0
61

जयपुर। दुनिया भर की दिलचस्पी मिस्र के पिरामिड और ममी में रही है। लोग इसके बारे में बहुत ही गहराई से जानना चाहते है। इसके किस्सें सुनने में बहुत ही रहस्यमय लगते है तो इसी कारण से लोगों ये रूचि बनाये रखते है। लोगों द्वारा बताई गई तमाम क़िस्से-कहानियां चलन में हैं कई फ़िल्में भी बन गई है। वैज्ञानीक ममी के बारे में जानने के मकसद से कई तरह के शोध करते रहते है। इसी पर अभी तूतेनख़ामेन की बहुत ही दिलचस्प तस्वीरों की प्रदर्शनी की गई थी जो कैमरामेन हैरी बर्टन के द्वारा ली गई थी। ये तस्वीरें देखने में वाकई बहुत ही रहस्यमय लगती है।

ऐसे ही तूतेनख़ामेन को लेकर एक नई खोज की गई है। जो की बहुत ही चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। तूतेनख़ामेन के मकबरे में कोई गुप्त कमरा है। जो पहले नहीं ज्ञात हुआ था। इस गुप्त कमरे में तूतेनख़ामेन की मां की कब्र बताई जा रही है। इस 3,000 साल पुराने मकबरे की दीवार के पीछे एक गुप्त कमरा भी है जिसमें तूतेनख़ामेन मां रानी नेफरतीती का मकबरा हो सकता है। इस कमरे का पता तब चला जब ब्रिटिश पुरातत्वविद निकोलस रीवेस को प्लास्टर के नीचे दरवाज़ा होने के कुछ सबूत मिले थे।

मिस्र में रानी नेफरतीती की एक तीन हज़ार साल पुरानी मूर्ति मौजूद है, जो कि प्राचीन मिस्र की पुख्ता पहचान कराती है। शोधसमुह के हेड डॉक्टर फ्रांसेस्को पोरसेली ने बताया की  तूतेनख़ामेन के मकबरे के पीछे कुछ नहीं मिला है। कोई गुप्त कमरा नहीं है। और आपको ये जानकर हैरानी अवश्य होगी की जब इस खोज को शुरू किया गया था तब से कई लोगों की तूतनख़ामेन की जगह पर मौत हो गई थी सिर्फ एक मच्छर के काटने से कई लोगों का कहना है की ये तूतनख़ामेन  को फराओ तूतनख़ामेन के श्राप का नतीजा बताया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here