हल्दी के भी हो सकते है साइड इफेक्ट जानिये हो सकता है क्या अंजाम

हल्दी के कई स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ कई दुष्प्रभाव भी हैं। लेकिन इसके दुष्प्रभावों का मतलब यह नहीं है कि आपको इसके इस्तेमाल से पूरी तरह बचना चाहिए।

0

 

जयपुर । हल्दी के कई स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ कई दुष्प्रभाव भी हैं। लेकिन इसके दुष्प्रभावों का मतलब यह नहीं है कि आपको इसके इस्तेमाल से पूरी तरह बचना चाहिए। स्वस्थ तरीके से इसका उपयोग करने और इसके दुष्प्रभावों को दूर करने के लिए कई निवारक उपाय हैं। हल्दी को पूरक के रूप में या अपने भोजन के रूप में लेने से पहले, पता करें कि क्या आपको इससे एलर्जी है।

हल्दी की थोड़ी सी मात्रा ले कर कोहनी के पास की स्किन पर रगड़ें यदि आपको कोई भी परेशानी नहीं हो रही है तोह आप इसका उपयोग कर सकते हैं पर थोड़ा सा भी आपकी स्किन पर जलन और कोई भी परेशानी आपको देखने को मिल रही है तोह यह आपके लिए ठीक नहीं है खाने में भी हल्दी का इस्तेमाल काम मात्रा में ही ठीक होगा कई लोग भर भर के हल्दी खाने में दाल दे ते हैं जिसके कारण स्किन खराब होना और पेट में अल्सर होने की शिकायत हो सकती है

हल्दी की संभावित संभावनाओं में से एक यह है कि आप सर्जरी के बाद भी सामान्य से अधिक समय तक रक्तस्राव कर सकते हैं।किसी भी रूप में हल्दी न लें, यदि आप जानते हैं कि आपको रक्त के थक्के विकार है। और एंटीप्लेटलेट या एंटीकोआगुलेंट दवा पर हल्दी के दुष्प्रभावों में से एक। तो इससे इन दवाओं की ताकत बढ़ जाती है।यदि आप कैप्सूल या टैबलेट के रूप में हल्दी बनाते हैं, तो सुनिश्चित करें कि यह कार्बनिक और रासायनिक मुक्त है।

हल्दी वैसे तो हमारे शरीर के लिए अच्छी मानी जाती है पर इसमें बहुत ज्यादा गर्मी होती है इसलिए इसका सेवन बहुत ही सोच समझ कर किया जाना ही बेहतर है।  इसका सेवन आ सिर्फ आपको रक्त का स्त्राव दे सकता है बल्कि रक्त सम्बन्धी विकार , पेट के विकार , बवासीर की परेशानी भी दे सकता है।  ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here