मुंबई हादसा: ट्रैफिक की लाल बत्ती ने बचा ली कई की जान

0
48

जयपुर। मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के बाहर एक फुट ओवरब्रिज के एक हिस्से के टूटने से पांच लोगों की मौत हो गई और गुरुवार शाम को भीड़भाड़ हो गई. अधिकारियों ने कहा कि घायलों को अस्पताल ले जाया गया है.

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि स्थिति और खराब होती अगर पास का ट्रैफिक सिग्नल पहले से हरा हो जाता. सिग्नल लाल था, जिसके कारण ओवरब्रिज ढहने पर कई मोटर चालक इंतजार कर रहे थे और बच गए थे. घटना के बाद फुट ओवरब्रिज की ओर जाने वाली धमनी सड़क पर यातायात प्रभावित हुआ है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर हैं, मुंबई पुलिस ने ट्विटर पर इस बात की जानकरी दी.

मुंबई मिरर के मुताबिक, मलबे के नीचे कई लोगों के फंसे होने की आशंका है. मृतकों की पहचान 35 वर्षीय अपूर्वा प्रभु, 40 वर्षीय रंजना तांबे, 35 वर्षीय सारिका कुलकर्णी, 32 वर्षीय जाहिद खान और 35 वर्षीय सतेंद्र सिंह के रूप में की गई.

वहीं इस पुरे मामले को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उन्होंने उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया था. उन्होंने कहा की “पुल का एक संरचनात्मक ऑडिट पहले किया गया था और यह फिट पाया गया था. उसके बाद भी अगर ऐसी घटना हुई, तो यह ऑडिट पर सवाल उठाता है. पूछताछ की जाएगी. कड़ी कार्रवाई की जाएगी.”

उन्होंने मरने वालों के परिवारों को 5-5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि और घायलों को 50,000 रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here