‘ट्रेड वार या पलटवार’: 108 अमेरिकी उत्पादों पर चीन ने लगाया 25 फीसदी टैरिफ

0
130

अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक शुल्क पर टकराव दिन पर दिन बढता जा रहा है जिसके कारण लोग वैश्विक स्तर पर ट्रेड वार की संभावनाएं व्यक्त करने लगे हैं। खबरों की मानें तो दोनों वैश्विक शक्तियों के बाद गहराते ट्रेड वार के मद्देनजर बुधवार को बीजिंग ने वाशिंगटन की मांग को खारिज कर दिया है। अमेरिकी प्रशासन की इस मांग में व्यापारिक घाटे में 100 अरब डॉलर की कमी करने का प्रस्ताव रखा गया था।

Image result for china IMPOSES TARIFF and america

“स्टेट काउंसिल की चीनी कस्टम टैरिफ कमीशन द्वारा अमेरिका पर जवाबी कार्रवाई के साथ 50 अरब डॉलर मूल्य के 106 आयातित उत्पादों पर 25 प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क लगाने का फैसला किया है। फिल्हाल, इन व्यापारिक शुल्कों के क्रियान्वयन की तारीख अमेरिकी द्वारा चीनी उत्पादों पर व्यापारिक शुल्क जारी करके बाद ही सामने आएगी।”-चीनी वित्त मंत्रालय 

जानकारी के लिए बात दें कि चीन ने अमेरिका पर जबाबी कार्यवाही करते हुए लगभग 50 अरब डॉलर मूल्य के 106 अमेरिकी उत्पादों पर 25 फीसदी आयात शुल्क लागू करने का ऐलान किया है। इन उत्पादों में सोयाबीन, कार और छोटे विमान समेत कई अन्य उत्पाद शामिल हैं। जाहिर है कि चीन प्रशासन के इस कदम से पहले मंगलवार को अमेरिका ने 50 अरब डॉलर की लागत वाले 1300 चीनी उत्पादों पर शुल्क लागू करने के लिए सूची जारी की थी।

Image result for china IMPOSES TARIFF and america

“व्यापारिक हितों पर अमेरिका के फैसले विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के नियमों प्रत्यक्ष रूप से उल्लंघन करते हैं। अमेरिका द्वारा निजी फायदे के लिए टैरिफ लगाना डब्ल्यूटीओ के नियमों तहत चीनी अधिकारों और हितों को नुकसान पहुंचा रहा है। यह चीन के आर्थिक और सुरक्षा हितों के लिए बड़ा खतरा है।”- चीनी वाणिज्य मंत्रालय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here