अगर आपको भी रहती है कमजोरी और थकान, तो अपनाए ये 5 चमत्कारी फूड

0

हमारे शरीर को सबसे ज्यादा अगर किसी चीज की आवश्यकता रहती है तो वह है एनर्जी। जी हां, कई बार हम ऐसा भोजन करते है जिसके कारण हमारें शरीर को आवश्यक तत्व, कैलोरी, आयरन, विटामिन जैसी उपयुक्त चीजं नही मिल पाती है। जिसके कारण शरीर कमजोर होता जाता है। तंग लाइफस्टाइल के चलते बच्चे और बड़ें दोनो में ही कमजोरी के लक्षण दिखाई देते है। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे आहार बताने जा रहें है जिन्हें अपनाकर आप भी अपने कमजोर शरीर को ताकतवर बना सकते है-

शहद और हल्दी

आयुर्वेद में हल्दी को कई रोगों की एक रामबाण दवा माना गया है। हल्दी प्रोटीन, वसा, खनिज, पदार्थ एरेशा, फाइबर, मैंगनीज, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फास्फोरस, लोहा, ओमेगा, विटामिन ए, बी, सी के स्रोत तथा कैलोरी भी पाई जाती है। हल्दी और शहद को मिलाकर खाने से शरीर को अभूतपूर्व एनर्जी मिलती है।

मेथीदाने

मेथी औषधीय गुणों से भरपूर है तथा यह हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए अत्यंत ही लाभवर्धक भी है। 2 चम्मच मेथीदाने को एक गिलास पानी में 5 घंटे तक भिगोएं फिर इसे उबालकर छान लें इसमें 2 चम्मच शहद मिलाकर रोजाना पीने से शरीर के अंदर की कमजोरी का खात्मा होता है और साथ ही शरीर फिट भी रहता है।

दूध-केला

केला और दूध साथ लेने के से शरीर को भरपूर मात्रा में प्रोटीन, विटामिन, फाइबर और मिनरल मिलते हैं। लोग अपने शरीर को फिट और स्वस्थ रखने के लिए केला और दूध का उपयोग करते है यह शरीर को एनर्जी देता है। इसके लिए आप रोजाना सुबह और शाम को 2-3 केलों के साथ एक गिलास दूध लेना चाहिए।

चने की दाल

चने की दाल आपके शरीर में आयरन की कमी को पूरा करती है।चने की दाल जिंक, कैल्श‍ियम, प्रोटीन, फोलेट आदि से भरपूर होने के कारण आपको आवश्यक व जरूरी ऊर्जा देती है। इसलिए रात को एक कोटोरी चने की दात को कच्चे दूध में भिगोकर रख दे और सुबह 5-6 किशमिश और मिश्री के साथ खाएं।

अंडा

Related image

अंडें में विटामिन डी, ओमेगा 3, बायोटिन, जिंक, प्रोटीन, कोलेस्‍ट्रॉल और अन्‍य पोषक तत्‍व भरपूर मात्रा में पाएं जाते है। अंडें में मौजूद प्रोटीन हमारी मांसपेशियां को मजबूत बनाता है। एक और बात जिन लोगों का वजन ज़्यादा है उन्हें अंडे का सफेद वाला हिस्सा खाना चाहिए क्योंकि इसमें बिलकुल फैट नहीं होता है।
कमजोरी, थकान,घरेलू नुस्खें,लाइफस्टाइल,एनर्जी,शरीर,हेल्थ समाचार,स्वास्थ्य

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here