समय आ गया कि भारत जम्मू कश्मीर से प्रतिबंध हटा ले: अमेरिकी समिति

0
79

जयपुर। जम्मू कश्मीर की स्थिति को लेकर 22 अक्टूबर को निर्धारित अमेरिकी कांग्रेस पैनल की सुनवाई से पहले अब अमेरिकी संसद की विदेश मामलों की समिति ने कहा है कि संचार माध्यमों पर पाबंदी लगाने से विनाशकारी प्रभाव पड़ रहा है और अब यह समय आ चुका है कि भारत सरकार द्वारा इन सभी प्रतिबंधों को हटा लिया जाए.

इस मामले को लेकर एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के अनुसार बताया जा रहा है कि समिति ने सोमवार को एक ट्वीट किया जिसमें यह कहा गया था कि भारत का कश्मीर में संचार माध्यमों पर पाबंदी लगाने का कश्मीरियों के रोजमर्रा के जीवन पर विनाशकारी प्रभाव पड़ रहा है और भारत के लिए इन प्रतिबंधों को उठाने और कश्मीरियों को किसी भी अन्य भारतीय नागरिक के समान अधिकार और विशेषाधिकार देने का समय आ चुका है.

इसके अलावा आपको बता दें कि सदन की एशियाई मामलों की उप समिति के अध्यक्ष और अमेरिकी सांसद फ्रेंड चेयरमैन ने घोषणा करी है कि 22 अक्टूबर की सुबह करीब 10:00 बजे उपसमिति दक्षिण एशिया में मानव अधिकार पर सुनवाई करेगी वहीं सांसद शेर ने कहा कि दक्षिण एशिया में विदेशी निवेश विभाग की नीतियों को देखने वाले सहायक सचिव एस गवाही देंगे और इसके साथ ही दक्षिण एशिया में मानव अधिकार के प्रयासों को देखने वाले भी देंगे.

आपको बता दें कि कश्मीर में 5 अगस्त के आसपास इन प्रतिबंधों को लगाया गया था जब वह वहां पर धारा 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटा दिया गया था लेकिन अभी तक भी बात यह है कि वहां पर ना ही मुख्यधारा से और वहां की राजनीति से जुड़े लोगों को रिहा किया गया है उन्हें अभी भी घरों में गिरफ्तार करके रखा गया है इसके साथ-साथ आम लोगों का जीवन भी अभी भी पटरी पर वापस नहीं लौट सका है और सभी के साथ-साथ वहां पर इंटरनेट सेवा को अभी तक बहाल नहीं किया गया है.

ऐसे में अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी सरकार से ही उम्मीद लगाई जा रही है कि वह जल्द ही जम्मू-कश्मीर में सभी प्रतिबंधों को हटा देगी ढीले देगी और आम जीवन को वापस पटरी पर लेकर आने का काम करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here